जेल में आजम से मिले शिवपाल तो अब राजभर का बयान आया सामने, किसे कहा दो मुहिया सांप?

जेल में आजम से मिले शिवपाल तो अब राजभर का बयान आया सामने, किसे कहा दो मुहिया सांप?
फोटो: राम बरन चौधरी

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने सीतापुर जेल में बंद समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान से शुक्रवार को मुलाकात की. दोनों नेताओं के बीच करीब एक घंटे चली मुलाकात के बाद शिवपाल ने मीडिया से बातचीत की. इस दौरान शिवपाल यादव ने जमकर समाजवादी पार्टी पर निशाना साधा. वहीं, अब शिवपाल के बयान के बाद सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (एसबीएसपी) के मुखिया ओम प्रकाश राजभर की प्रतिक्रिया सामने आई है.

एसबीएसपी चीफ ने पलटवार करते हुए कहा,

"नेता दो मुहिया सांप हैं. अभी तो टीवी चैनल पर चल रहा था कि शिवपाल जी बीजेपी के साथ जा रहे हैं. तारीख आई थी 19 अप्रैल. 19 बीत गई 22 आ गई. अब आजम खान जी के यहां जा रहे हैं. पहले यह तो तय हो जाए कि कहां जा रहे हैं."

ओम प्रकाश राजभर

ओम प्रकाश राजभर ने कहा, "आजम खान एक बड़े नेता हैं, उनसे जेल में मिलना एक अलग बात है. कोई भी मिल सकता है. इस समय जो पोलिटिकल मामला है, उस मामले में वो (शिवपाल) उनसे मिलने गए हैं तो उससे राजनीति का कोई मतलब नहीं निकल सकता है. बस प्रदेश में खूब चर्चा रहेगी कि शिवपाल जी मिले."

उन्होंने आगे कहा, "2022 के पहले तमाम अटकलें थीं कि चाचा-भतीजे एक नहीं हो सकते. बड़ी-बड़ी खबरें हमने भी सुनीं. मैं बार-बार कहता था कि वो परिवार का झगड़ा है और अंत में शिवपाल और अखिलेश जी मिलकर ही चुनाव लड़े. यहां तक की शिवपाल अपनी पार्टी नहीं बल्कि एसपी के सिंबल पर लड़े. परिवार सब एक है विचारों से."

आजम से मुलाकात के बाद PM मोदी का जिक्र कर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के मुखिया ने कही ये बात,

"इस समय विधानसभा में आजम खान साहब से सीनियर कोई भी सदस्य नहीं है. समाजवादी पार्टी आजम भाई की मदद से संघर्ष करती दिख नहीं रही है, ये दुर्भाग्य है. वैसे तो नेताजी की अगुवाई में समाजवादी पार्टी को लोकसभा में भी आजम भाई का ये मामला रखना चाहिए था. नेता जी की अगुवाई में अगर धरने पर भी बैठ जाते तो प्रधानमंत्री जरूर नेता जी की बात को सुनते. पूरा देश जनता है कि प्रधानमंत्री जी, नेताजी का बहुत सम्मान करते हैं."

शिवपाल सिंह यादव

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के नतीजों के बाद समाजवादी पार्टी में एक बार फिर पारिवारिक लड़ाई सामने आ चुकी है. एसपी चीफ अखिलेश यादव और उनके चाचा शिवपाल सिंह यादव के बीच इन दिनों सियासी जंग देखने को मिल रही है. पिछले कई मौकों पर शिवपाल ने बीजेपी की तरफ जाने के इशारे भी किए हैं, जिससे सूबे का सियासी पारा काफी गर्म है. अब भविष्य में शिवपाल क्या फैसला लेंगे, ये देखना दिलचस्प रहेगा.

जेल में आजम से मिले शिवपाल तो अब राजभर का बयान आया सामने, किसे कहा दो मुहिया सांप?
जब शिवपाल यादव भगवा पहन लेंगे तब मैं मानूंगा उन्होंने बीजेपी जॉइन कर ली: ओम प्रकाश राजभर

संबंधित खबरें

No stories found.