अग्निपथ योजना का मायावती ने किया विरोध, बोलीं- सरकार तुरंत अपने फैसले पर पुनर्विचार करे

अग्निपथ योजना का मायावती ने किया विरोध, बोलीं-  सरकार तुरंत अपने फैसले पर पुनर्विचार करे
बीएसपी चीफ मायावती.फोटो: मनीष अग्निहोत्री/ इंडिया टुडे

17 से 21 साल तक के युवाओं को चार साल के लिए सेना में संविदा पर भर्ती करने और अधिकतर को बिना पेंशन व ग्रेजुएटी को अनिवार्य सेवानिवृत्ति देने की केंद्र द्वारा शुरू की गई ‘अग्निपथ योजना’ का बीएसपी चीफ मायावती ने विरोध किया है.

गुरुवार को मायावती ने ट्वीट कर कहा कि 'अग्निवीर नई भर्ती योजना घोषित की है, उसको लुभावना व लाभकारी बताने के बावजूद देश का युवा वर्ग असंतुष्ट एवं आक्रोशित है. वे सेना भर्ती व्यवस्था को बदलने का खुलकर विरोध कर रहे हैं.' मायावती ने कहा कि बीएसपी की यह मांग है कि सरकार तुरंत अपने फैसले पर पुनर्विचार करे.

बीएसपी चीफ ने अपने ट्वीट में कहा,

"सेना में काफी लम्बे समय तक भर्ती लम्बित रखने के बाद अब केन्द्र ने सेना में 4 वर्ष अल्पावधि वाली ’अग्निवीर’ नई भर्ती योजना घोषित की है, उसको लुभावना व लाभकारी बताने के बावजूद देश का युवा वर्ग असंतुष्ट एवं आक्रोशित है. वे सेना भर्ती व्यवस्था को बदलने का खुलकर विरोध कर रहे हैं."

मायावती

मायावती ने कहा, "इनका मानना है कि सेना व सरकारी नौकरी में पेंशन लाभ आदि को समाप्त करने के लिए ही सरकार सेना में जवानों की भर्ती की संख्या को कमी के साथ-साथ मात्र चार साल के लिए सीमित कर रही है, जो घोर अनुचित तथा गरीब व ग्रामीण युवाओं व उनके परिवार के भविष्य के साथ खुला खिलवाड़ है."
फोटो: मायावती ट्विटर

उन्होंने आगे कहा, "देश में लोग पहले ही बढ़ती गरीबी, महंगाई, बेरोजगारी एवं सरकार की गलत नीतियों व अहंकारी कार्यशैली आदि से दुःखी व त्रस्त हैं, ऐसे में सेना में नई भर्ती को लेकर युवा वर्ग में फैली बेचैनी अब निराशा उत्पन्न कर रही है. सरकार तुरन्त अपने फैसले पर पुनर्विचार करे, बीएसपी की यह मांग."

क्या है ‘अग्निपथ’ योजना?

सरकार ने दशकों पुरानी रक्षा भर्ती प्रक्रिया में आमूलचूल परिवर्तन करते हुए थलसेना, नौसेना और वायुसेना में सैनिकों की भर्ती संबंधी ‘अग्निपथ’ योजना की मंगलवार को घोषणा की थी, जिसके तहत सैनिकों की भर्ती चार साल की लघु अवधि के लिए संविदा आधार पर की जाएगी.

योजना के तहत तीनों सेनाओं में इस साल करीब 46,000 सैनिक भर्ती किए जाएंगे. चयन के लिए पात्रता आयु साढ़े 17 वर्ष से 21 वर्ष के बीच होगी और इन्हें ‘अग्निवीर’ नाम दिया जाएगा.

बीएसपी चीफ मायावती.
CM योगी बोले- सरकार पुलिस और संबंधित सेवाओं में भर्ती के लिए अग्निवीरों को प्राथमिकता देगी

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in