कानपुर हिंसा: कानून-व्यवस्था की समीक्षा कर CM बोले- माहौल बिगाड़ने वालों से सख्ती से निपटें

कानपुर हिंसा: कानून-व्यवस्था की समीक्षा कर CM बोले- माहौल बिगाड़ने वालों से सख्ती से निपटें
तस्वीर: चंद्रदीप कुमार, इंडिया टुडे.

उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कानपुर नगर की हिंसा का संज्ञान लेते हुए शुक्रवार को प्रशासनिक अधिकारियों को हिदायत दी कि प्रदेश में कायम अमन-चैन के माहौल को बिगाड़ने का प्रयास करने वालों के साथ सख्ती से निपटा जाए. गौरतलब है कि पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ कथित ‘अपमानजनक’ टिप्पणियों के विरोध में शुक्रवार को कानपुर नगर में जुमे की नमाज के बाद दुकानें बंद कराने के प्रयास के दौरान दो समुदायों के लोगों द्वारा एक-दूसरे पर पथराव और बम फेंके जाने के बाद वहां कुछ इलाकों में हिंसा हुई.

सीएम ने क्या निर्देश दिए?

सीएम योगी शुक्रवार रात वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए प्रदेश की कानून-व्यवस्था की समीक्षा की. पुलिस कमिश्नर को दोषियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने तथा बिना किसी रियायत कठोर कार्रवाई करने का आदेश दिया. इस दौरान उन्होंने कहा कि सभी जिलों में प्रशासन व पुलिस के अधिकारी छोटी से छोटी घटना को गंभीरता से लें. सूचना के अनुसार, त्वरित कार्रवाई सुनिश्चित की जाए. मुख्यमंत्री ने कहा कि थानावार अराजक तत्वों को चिह्नित किया जाए. इसके साथ ही अनावश्यक बयान देने वालों की भी पहचान कर उनके खिलाफ सख्त विधिक कार्रवाई की जाए.

सीएम ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के दुरुपयोग को लेकर प्रशासन और पुलिस अधिकारियों को निर्देशित किया कि सोशल मीडिया का दुरुपयोग करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए.

चिह्नित किए जाएं अवैध धार्मिक स्थल: सीएम योगी

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि सभी जिलों में अभियान चलाकर अवैध और सड़क पर अतिक्रमण करने वाले धार्मिक स्थलों को चिह्नित किया जाए. साथ ही यह सुनिश्चित किया जाए कि सड़क पर धार्मिक गतिविधियां न आयोजित हों. सीएम ने कहा कि गत दिनों अभियान चलाकर धार्मिक स्थलों से या तो माइक उतारे गए हैं या उनकी आवाज कम की गई है. यह सुनिश्चित किया जाए कि दोबारा धार्मिक स्थलों के माइक की आवाज तेज न हो.

सीएम योगी ने निर्देश देते हुए कहा, "मंत्री स्तरीय समूह आगामी 11 जून से पुनः मंडलीय व जनपदीय दौरे पर जाएंगे और यह समूह इन बिंदुओं के साथ कानून-व्यवस्था की भी समीक्षा करेंगे कि किसी भी प्रकार की लापरवाही मिलने पर संबंधित के विरुद्ध कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी."

मुख्यमंत्री ने सभी जिलों के पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों को निर्देशित किया कि आगामी 10 जून तक सभी सड़कें अतिक्रमण मुक्त होनी चाहिए और अवैध टैम्पो स्टैंड हटा दिए जाएं. साथ ही बसों को भी उनके निर्धारित स्थान पर ही खड़ा कराया जाए.

कानपुर हिंसा: कानून-व्यवस्था की समीक्षा कर CM बोले- माहौल बिगाड़ने वालों से सख्ती से निपटें
कानपुर में बवाल करने वालों की पुलिस ने की पहचान, इनके घरों पर चलेगा बुलडोजर

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in