योगी जी महात्मा हैं, लेकिन बीजेपी की गिरफ्त में आ गए हैं: ओम प्रकाश राजभर

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

यूपी में आगामी चुनाव से पहले 18 सितंबर को प्रयागराज में आयोजित ‘यूपी तक बैठक’ में सुभासपा अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने कई मुद्दों पर अपना पक्ष रखा. आगे पढ़िए उन्होंने क्या-क्या बातें कही.

“योगी जी मेहनती और ईमानदार है, लेकिन अधिकारी उनको गुमराह कर रहे. योगी जी महात्मा हैं, लेकिन बीजेपी की गिरफ्त में आ गए हैं.”

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

“यूपी में लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति मायावती की सरकार में सबसे अच्छी थी. आज लॉ एंड ऑर्डर खत्म है. आज थानों में जाति पूछकर गाली दी जा रही है.”

”उत्तर प्रदेश में प्रबुद्ध सम्मेलन हो रहे हैं, जो अबुद्ध लोग हैं, आज भी जो अशिक्षित लोग हैं, उनकी सुध कौन लेगा, ओमप्रकाश राजभर उनकी बात करता है, जिनके यहां अभी भी शिक्षा नहीं पहुंची है.”

ADVERTISEMENT

“मुख्तार अंसारी के फाटक पर बीजेपी के नेता माथा टेकने जाते हैं. मायावती ने मुख्तार अंसारी को गरीबों का मसीहा बताया था.”

“गाजीपुर, बलिया, बनारस, प्रतापगढ़ जिसे भी चुनाव लड़ना होता है वह उनके (मुख्तार) फाटक पर माथा टेकता है. मुख्तार अंसारी ने गरीब-कमजोरों के अत्याचार के खिलाफ जंग किया है, इसलिए उन्हें माफिया कहते हैं.”

ADVERTISEMENT

“महंगाई जान, बेरोजगारी जान, शिक्षा जान, इसपर कोई चर्चा नहीं है. जनता महंगाई से त्राहि-त्राहि कर रही है. “

“2 साल सत्ता में रहा. 2016 में बीजेपी से समझौता हुआ. कोई साबित कर दे कि बीजेपी से एक पैसा भी लिया हूं? 2022 में बीजेपी को सत्ता से बेदखल करके दिखाऊंगा, आप राजभर का खेल देखते जाइए.”

“इस सरकार ने कोई काम नहीं किया. कुंभ का आयोजन किया और कैग की रिपोर्ट में कई घोटाले सामने आए.”

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT