window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

‘8 महीने की गर्भवती पत्नी को 3 तलाक बोल घर से निकाला’, इटावा की पीड़िता की दर्दनाक कहानी

अमित तिवारी

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

Etawah News: 3 तलाक पर केंद्र की मोदी सरकार कानून बना चुकी है. अब देश में तीन तलाक बोलने पर सख्त सजा मिलती है. मगर अभी भी तीन तलाक के मामले कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं. ताजा मामला उत्तर प्रदेश के इटावा से सामने आया है.

यहां एक सख्स ने अपनी पत्नी को तीन तलाक दे दिया. जिस समय पीड़ित महिला को पति ने तीन तलाक दिया उस समय वह 8 महीने की गर्भवती थी. आरोप है कि पति और ससुराल वालों ने पहले 10 लाख रुपये की मांग की फिर पीड़िता को प्रताड़ित किया और आखिर में पति ने उसे 3 बार तलाक-तलाक-तलाक बोलकर तीन तलाक दे दिया.

2021 में हुई थी शादी

दरअसल ये पूरा मामला इटावा के थाना कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत ईदगाह चौराहे से सामने आया है. यहां एक युवती अपने माता-पिता के पास अपने मायके रह रही है. महिला के मुताबिक, वह तीन तलाक का शिकार हुई है.  

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

मिली जानकारी के मुताबिक, पीड़िता का निकाह कानपुर के रहने वाले एहतेशाम के साथ 4 दिसंबर 2021 को बड़ी धूमधाम से हुआ था. पीड़िता का कहना है कि उसके परिजनों ने ज्यादा दहेज देकर उसका निकाह करवाया था. पीड़िता का आरोप है कि निकाह के कुछ समय बाद ही ससुराल वालों ने उसे परेशान करना शुरू कर दिया. उसके शौहर और उसके ससुराल वालों ने उससे 10 लाख रुपये का दहेज मांगना शुरू कर दिया. 

पति ने की मारपीट

पीड़िता का आरोप है कि उसके पति ने उसके साथ मारपीट की. पीड़िता के मुताबिक, तब तक वह 8 महीने की गर्भवती हो चुकी थी. मगर फिर भी ससुराल वाले उसे परेशान कर रहे थे. इस दौरान पीड़िता ने अपनी आपबीती अपने पिता को बताई. पीड़िता के परिजन कानपुर पहुंचे और ससुराल पक्ष के लोगों से बात की. मगर ससुराल पक्ष के लोग नहीं माने.

ADVERTISEMENT

8 महीने की गर्भवती पत्नी को घर से निकाला

पीड़िता के मुताबिक, जब पति ने उसे घर से धक्के मार कर निकाला तब वह 8 महीने की गर्भवती थी.  इसके बाद पीड़िता अपने माता-पिता के पास आ गई. पीड़िता के मुताबिक, उसी दौरान उसके पति ने उसे तीन बार तलाक-तलाक-तलाक बोलकर तीन तलाक बोल दिया.

पीड़िता के मुताबिक, उसने मायके में ही बच्चे को जन्म दिया. उसके ससुराल वालों उस समय भी वहां नहीं आए. पीड़िता के मुताबिक, तीन तलाक के बाद पति और ससुराल वालों ने उससे पूरी तरह से नाता तोड़ लिया है.

ADVERTISEMENT

अब पुलिस से की इंसाफ की मांग

अब पीड़िता के पिता ने पुलिस से मामले में इंसाफ की गुहार लगाई है. पिता ने थाना कोतवाली में शिकायत करके अपनी बेटी के लिए न्याय मांगा है. थाना कोतवाली पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए फौरन गंभीर धाराओं में केस दर्ज किया है. इस केस में आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने  धारा 323, 498A, 506, 504, आईपीसी में 3/ 4 डीपी एक्ट, 3/4 मुस्लिम महिला विवाह अधिकार संरक्षण अधिनियम के तहत केस दर्ज किया है. पुलिस द्वारा मामले में कार्रवाई की जा रही है.

पुलिस ने ये बताया

इस पूरे मामले पर कपिल देव सिंह (एसपी सिटी, इटावा) ने बताया, “ कोतवाली इटावा क्षेत्र की एक महिला की शादी कानपुर के बाबू पुरवा थाना क्षेत्र में हुई थी. उनके द्वारा ससुराली जन पर आरोप लगाया गया है कि उन्होंने दहेज की मांग की है और उनको प्रताड़ित किया गया है. पीड़ित का आरोप है कि उसे तीन तलाक भी दिया गया है.  प्रथम दृष्टया जांच में आरोप सही पाए गए हैं. पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है. इस मामले में 7 लोगों के खिलाफ गंभीर धाराओं में केस दर्ज किया गया है.”

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT