प्रयागराज: 20 सेकेंड में कोरोना की रिपोर्ट बताएगी ये मशीन, MNIT के वैज्ञानिक कर रहे तैयार

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

उत्तर प्रदेश के मोती लाल नेहरू राष्टीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एमएनआईटी) के वैज्ञानिक अब जल्द ऐसी मशीन तैयार करने वाले हैं, जिससे आपको घर बैठे 20 सेकेंड में कोविड जांच की रिपोर्ट मिल सकेगी. इसकी लागत करीब 100 रुपये के आस-पास आएगी, इसके लिए एमएनआईटी के वैज्ञानिक मशीन बनाने की तैयारी में जुट गए हैं.

डीप एक्स डिवाइस से लैस हाईटेक फोल्डिंग पोर्टेबल मशीन को बनाने के लिए विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग डीएसटी से एमएनआईटी के मेकैनिकल ब्रांच को 52 लाख की ग्रांट मिली है. बताया जा रहा है कि जल्द ये मशीन कोविड की जांच में मदद के लिए तैयार हो जाएगी.

मशीन कैसे करेगी काम?

यह मशीन एक्स-रे स्कैन से कोरोना संक्रमित मरीज की पहचान कर लेगी. डीप एक्स डिवाइस के सॉफ्टवेयर को पोर्टेबल एक्स-रे स्कैनर से जोड़कर बारीकी से जांच करेगी. पोर्टेबल एक्स-रे मशीन से जुड़कर यह सॉफ्टवेयर संक्रमित व्यक्ति के फेफड़े को स्कैन कर अपलोड हुई एक्स-रे से मिलान करेगी. इन सब चीजों की जांच के लिए मशीन 20 सेकेंड का समय लगेगा. बताया जा रहा है कि पूरी जांच के लिए करीब 100 रुपये का खर्च आएगा. यह मशीन इतनी छोटी है कि किसको किसी छोटे सूटकेस में कहीं भी आसानी से ले जाया जा सकता है.

5 सदस्यीय टीम बना रही मशीन

डीप एक्स डिवाइस से लैस हाईटेक फोल्डिंग पोर्टेबल मशीन को बनाने के लिए एमएनआईटी की 5 सदस्यीय टीम काम कर रही है. मैकेनिकल ब्रांच के प्रो0 मुकुल शुक्ला, डॉक्टर प्रवीण अग्रवाल, कंप्यूटर साइंस विभाग की डॉ. सजिता, डॉक्टर नवजोत सिंह और रेडियोलॉजिस्ट डॉक्टर दीपक गुप्ता इस प्रोजेक्ट में लगे हैं.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

पूरे देश में कोविड-19 से अब तक लाखों लोगों की मौत हुई और इससे लोग डरे भी हुए हैं. हालांकि, कोविड का असर कम जरूर हुआ है, लेकिन कोरोना से जंग अभी भी जारी है, इसके लिए इन वैज्ञानिकों का प्रयास लोगों की मदद जरूर करेगा.

कोरोना वैक्सीनेशन: सर्टिफिकेट में एक ही शख्स के नाम पर 5 खुराकें, छठे टीके की मिली तारीख

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT