कौशांबी: कलाई पर युवक की शर्मनाक हरकत लिख किशोरी ने लगा ली फांसी, हालत नाजुक

कौशांबी: कलाई पर युवक की शर्मनाक हरकत लिख किशोरी ने लगा ली फांसी, हालत नाजुक
फोटो: आनंद राज

उत्तर प्रदेश के कौशांबी जिले से शनिवार को एक हैरान कर देने वाली खबर सामने आई है. कौशांबी के करारी थाने के पिड़ीरागांव में एक किशोरी ने एक युवक पर कई संगीन आरोप लगाते हुए अपने हाथों पर लिखकर 'मेरी मौत का जिम्मेदार कलीम' फंदे पर झूल गई. वक्त रहते घर वालों ने पीड़िता को फांसी के फंदे से उतार कर आनन-फानन में कौशांबी के हॉस्पिटल लेकर पहुंची, जहां पर डॉक्टरों ने देखने के बाद पीड़ित लड़की को प्रयागराज एसआरएन हॉस्पिटल रेफर कर दिया.

अहम बिंदु

अब जिंदगी और मौत के बीच जूझ रही नाबालिग के परिवार वालों ने आरोपी युवक के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग उठाई है. यही नहीं पीड़ित के परिवार वालों ने पड़ोसी कौशांबी जिले में ब्लैकमेलर की धमकियों से तंग आकर 17 वर्षीय किशोरी के फांसी के फंदे पर झूलने का आरोप लगाया है.

17 साल की युवती के घर पर कोई मौजूद नही था, लेकिन जब पड़ोसियों को आहट मिली तो वो लड़की के घर पहुंचे. जहां लड़की फांसी के फंदे पर झूल रही थी. आनन-फानन में गांव के लोगों ने लड़की को फांसी के फंदे से उतारा तो देखा कि उसके हाथ-पांव पर कुछ लिखा हुआ था. तब तक लड़की के घर वाले भी मौके पर पहुंच चुके थे.

पीड़िता लड़की के घर वालों देखा कि लड़की ने अपने दोनों पांव और दोनों हाथ पर लिख रखा था कि 'कलीम के कारण मेरी मौत हुई है'. कलीम का नाम सुनकर लड़की के घरवाले गुस्से में आपे से बाहर हो गए, लेकिन अब तक लड़की की सांसे चल रही थी और उनके सामने पहली चुनौती किशोरी की जान बचाने की थी.

पुलिस को सूचना देने के बाद लड़की के घरवाले ने कौशाम्बी के जिला चिकित्सालय मंझनपुर पहुंचे जहां डॉक्टरों ने उसे प्रयागराज रेफर कर दिया. लड़की को प्रयागराज के मेडिकल कॉलेज के एसआरएन हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया जहां उसकी हालत बेहद गंभीर बनी हुई है. एसआरएन अस्पताल के मेडिसिन वार्ड में पीड़ित लड़की की मां के मुताबिक 5 बहन और 2 भाई है और बेहद गरीब परिवार से हैं.

पीड़ित किशोरी की मां ने कहा है 2 साल पहले आरोपी कलीम ने उनकी 15 वर्षीय नाबालिग बेटी का धोखे से अश्लील वीडियो बना लिया. जिसके बाद से वो लगातार लड़की का वीडियो वायरल करने की धमकी देकर बुलाता और उसका यौन शोषण करता था. इस बीच एक दिन लड़की ने रो-रोकर पूरी कहानी अपनी मां को सुनाई.

जिसके बाद लड़की के घरवालों ने उसे पढ़ने के लिए घर से दूर एक रिश्तेदार के घर भेज दिया. बावजूद इसके कलीम ने लड़की का पीछा नहीं छोड़ा. उसकी धमकियां बढ़ती गईं. परेशान होकर लड़की पढ़ाई छोड़कर वापस घर लौट आयी और एक दिन घर मे जब कोई नहीं था फांसी के फंदे पर झूल गयी.

17 वर्षीय किशोरी प्रयागराज के एसआरएन हॉस्पिटल के मेडिसिन इमरजेंसी वार्ड में भर्ती है, जहां उसकी हालत बेहद गंभीर बनी हुई है.

राकेश कुमार सिंह, आईजी जोन प्रयागराज

राकेश कुमार सिंह के मुताबिक वार्ड में मौजूद डॉक्टरों ने बताया कि लड़की की हालत बेहद नाजुक है हालांकि उसे बचाने की पूरी कोशिश की जा रही है. प्रयागराज आईजी राकेश सिंह के मुताबिक 4 मई की घटना है. जिसमें आरोपी युवक को अरेस्ट कर पूछताछ कर रही है. लड़की के होश आने के बाद उसके बयान के आधार पर आरोपी के खिलाफ और धाराएं लगाकर कार्रवाई की जाएगी.

कौशांबी: कलाई पर युवक की शर्मनाक हरकत लिख किशोरी ने लगा ली फांसी, हालत नाजुक
चित्रकूट: 13 साल की दलित से दुष्कर्म, दो दिन बाद हो गई मौत

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in