मुख्तार अंसारी की जेल में मौत का राज अब खुल जाएगा! बाराबंकी कोर्ट ने उठाया ये बड़ा कदम

ADVERTISEMENT

फाइल फोटो.
फाइल फोटो.
social share
google news

Uttar Pradesh News : उत्तर प्रदेश के बांदा जेल में बंद माफिया मुख्तार आंसारी की मौत के मामले में लगातार सवाल उठ रहे हैं. मुख्तार के परिजनों से लेकर विपक्षी पार्टी के कई नेताओं ने माफिया डॉन के मौत पर सवाल उठा चुके हैं. परिजनों का आरोप है कि मुख्तार को जेल में लगातार स्लो पॉइजन दिया जा रहा था वहीं पोस्टमार्ट्म रिपोर्ट में मौत का कारण हार्ट अटैक बताया गया है. इसी बीच मुख्तार की मौत मामले में बाराबंकी की कोर्ट ने बांदा जेल के अधिकारी को तलब किया है. 

बाराबंकी कोर्ट ने उठाया ये बड़ा कदम

बता दें कि जेल अधिकारी कोर्ट को ये बताएंगे कि न्यायिक अभिरक्षा (ज्यूडिशियल कस्टडी) में मुख्तार अंसारी की मौत कैसे हुई. दरअसल, मुख्तार के वकील रणधीर सिंह सुमन की ओर से कोर्ट में वाद दाखिल करने को लेकर अपील की गई है, जिसपर कोर्ट में सुनवाई हुई. वकील रणधीर सिंह ने कोर्ट से अपील करते हुए कहा कि मुख्तार की मौत की वजह जानने के लिए आवश्यक है कि बांदा जेल के सभी सीसीटीवी फुटेज सुरक्षित कर लिए जाएं.  इसके अलावा बांदा जेल में निरीक्षण के नाम पर आने वाले सभी अधिकारियों की एंट्री और कैमरे में आए उनके फोटो को भी सुरक्षित किए जाने की आवश्यकता है. इस मामले में शुक्रवार को सुनवाई हो गई है, 4 अप्रैल को कोर्ट का ऑर्डर आएगा. 

मौत पर उठ रहे सवाल

मालूम हो कि मुख्तार की बीते गुरुवार को मौत हो गई थी. बांदा जेल में अचानक उसकी तबीयत बिगड़ गई थी. इसके बाद उसको बांदा मेडिकल कॉलेज में इलाज केलिए ले जाया गया था, जहां इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया था. मौत का कारण कार्डियक अरेस्ट बताया गया.  वहीं, इससे पहले जब 26 मार्च को मुख्तार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था, तब मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉक्टर ने बताया था कि उसे पेट दर्द, पेशाब करने में समस्या थी. 
 

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT