window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

3 साल पहले शाहनवाज ने पूनम को अर्शी बना किया था निकाह, अब पत्नी ने पति के साथ अपनाया हिंदू धर्म

संदीप सैनी

ADVERTISEMENT

मंदिर में हिंदू धर्म अपनाते पति-पत्नी
Muzaffarnagar
social share
google news

Muzaffarnagar News: आज से करीब 3 साल पहले शामली के कैराना में रहने वाले शाहनवाज ने पूनम नाम की युवती के साथ प्रेम विवाह किया था. शाहनवाज ने पूनम का धर्म परिवर्तन करवाया था और पूनम ने इस्लाम धर्म कबूल करके अपना नाम अर्शी रख लिया था. मगर अब 3 साल बाद इस केस में जो हुआ, उसे जानकर आप चौंक जाएंगे.

बता दें कि निकाह के 3 साल बाद पूनम से अर्शी बनी युवती और शाहनवाज ने इस्लाम छोड़ दिया है और हिंदू धर्म अपना लिया है. युवती ने फिर से हिंदू धर्म अपनाया है और अपना पुराना नाम पूनम रख लिया है. तो वहीं शाहनवाज ने भी इस्लाम छोड़कर अपना नया नाम राहुल रख लिया है.

3 साल पहले युवती ने इस्लाम अपनाकर किया था निकाह

मिली जानकारी के मुताबिक, शामली के कैराना में रहने वाले शाहनवाज का प्रेम संबंध हिंदू युवती पूनम के साथ चल रहा था. शाहनवाज ने पूनम को अपने प्रेम में ऐसा फंसाया कि युवती ने अपना धर्म परिवर्तन कर लिया और अपना नाम अर्शी रखकर उसके साथ निकाह कर लिया. उस दौरान ये मामला काफी सुर्खियों में भी रहा था.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

मगर अब अर्शी फिर पूनम बन गई है और उसने अपने पति शाहनवाज को भी राहुल बना दिया है. इन दोनों ने बघरा ब्लॉक स्थित योग साधना स्वामी यशवीर जी महाराज के आश्रम में पहुंचकर हिंदू धर्म अपनाया है और सनातन धर्म के अनुसार विवाह किया है. इसी के साथ दोनों ने हिंदू धर्म में वापसी भी कर ली है.

ऐसे बदल गया पूनम से अर्शी बनी युवती का मन

UP तक ने अर्शी से पूनम बनी युवती से बात की और उससे जाना कि आखिर उसने मुस्लिम धर्म अपनाकर फिर हिंदू धर्म क्यों अपनाया? इसका जवाब देते हुए पूनम ने कहा कि, मैंने मुस्लिम धर्म में शादी की थी. वहां सभी लोग मीट-मछली खाते थे. मगर मुझे ये सब पसंद नहीं आता था. इसको लेकर मैंने अपने पति से बात की और पति से बोला कि हमें वापस हिंदू धर्म में जाना चाहिए. वह भी मान गए. इसके बाद हम दोनों ने आश्रम आकर हिंदू धर्म अपना लिया. युवती ने इस दौरान ये भी बताया कि वह उत्तराखंड की रहने वाली है. उसके साथ उसके पति ने भी हिंदू धर्म अपना लिया है.

ADVERTISEMENT

हिंदू धर्म अपनाकर क्या बोला शाहनवाज से राहुल बना शख्स

शाहनवाज से राहुल बने युवक ने कहा, मैंने अपना नाम अब राहुल रख लिया है. मैं मुस्लिम गुर्जर हूं और मैंने 3 साल पहले निकाह किया था. जिस लड़की से मैंने निकाह किया था, वह हिंदू गुर्जर थी. मगर मुझे मुस्लिम धर्म अच्छा नहीं लगा, इसलिए अब मैंने अपनी पत्नी के साथ मिलकर हिंदू धर्म अपना लिया है. यहां आकर मुझे बहुत अच्छा लग रहा है.

पिछले डेढ़ साल में 1200 मुसलमानों ने अपनाया हिंदू धर्म

आश्रम के स्वामी यशवीर जी महाराज का कहना है कि उनके यहां पिछले डेढ़ साल में करीब 1200 मुस्लिम भाई-बहनों ने हिंदू धर्म को अपनाया है और घर वापसी की है. यशवीर महाराज के मुताबिक, इसी क्रम में अर्शी और शाहनवाज ने भी पूनम और राहुल बनकर घर वापसी कर ली है. इन दोनों से यहां हवन करवाया गया और देवी-देवताओं की मूर्ति भी उन्हें दी गई.

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT