window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

फैजाबाद सीट हारी थी BJP, अब अयोध्या प्रशासन ने लोगों को दिए मुआवजे को लेकर किया बड़ा दावा

भाषा

ADVERTISEMENT

Faizabad Lok Sabha Seat
Faizabad Lok Sabha Seat
social share
google news

Faizabad Loksabha Seat: लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश की फैजाबाद अयोध्या सीट पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की पराजय के बाद रामनगरी में विकास कार्यों के लिए मकान और दुकान तोड़े जाने का मुआवजा नहीं देने के आरोपों के बीच अयोध्या जिला प्रशासन ने मंगलवार को दावा किया कि प्रभावित लोगों को क्षतिपूर्ति के रूप में 1253 करोड़ रुपये दिये जा चुके हैं. 

अयोध्या के जिलाधिकारी नितीश कुमार ने बताया कि राम जन्मभूमि पथ, भक्ति पथ, राम पथ, पंच कोसी परिक्रमा मार्ग, चौदह कोसी परिक्रमा मार्ग और अयोध्या हवाई अड्डे के निर्माण के दौरान मकान और दुकानें हटाए जाने से प्रभावित हुए अयोध्या के निवासियों को मुआवजे के रूप में 1,253.06 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया है. 

 

 

अयोध्या जिला प्रशासन का यह बयान ऐसे समय में आया है जब हाल ही में हुए लोकसभा चुनाव में फैजाबाद सीट पर समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी अवधेश प्रसाद के हाथों भाजपा की हार के लिए लोग सोशल मीडिया पर अयोध्या के विकास के नाम पर सैकड़ों लोगों के मकान और दुकानें ध्वस्त किए जाने को लेकर उपजे जन आक्रोश को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं. मालूम हो कि अवधेश प्रसाद ने भाजपा उम्मीदवार लल्लू सिंह को 54,567 वोटों से हराया था.

जिला प्रशासन ने बयान में दावा किया है कि अयोध्या में सौंदर्यीकरण और मार्गों को चौड़ा करने का काम उनके किनारे स्थित दुकानदारों, भवन स्वामियों एवं भू-स्वामियों से तालमेल करके और उन्हें नियमानुसार पुर्नस्थापित कर मुआवजा देते हुए किया गया है.      जिलाधिकारी ने बयान में बताया कि रामपथ, भक्तिपथ, रामजन्मभूमि पथ एवं पंचकोसी एवं चैदहकोसी परिक्रमा मार्ग के सौन्दर्यीकरण एवं चौड़ीकरण से कुल 4616 दुकानदार प्रभावित हुये, जिसमें से 4215 दुकानदार/व्यापारी जिनकी दुकानें आंशिक रूप से चौड़ीकरण में प्रभावित हुई थीं, उन सभी को कुछ अन्तराल के लिए व्यापार प्रभावित होने के एवज में प्रति दुकानदार मुआवजा राशि का भुगतान किया गया.

 

 

बयान के मुताबिक सौन्दर्यीकरण/चौड़ीकरण में कुल 401 दुकानदार पूर्ण रूप से स्थानान्तरित हुये जिनमें से 339 दुकानदारों को प्राधिकरण द्वारा दुकान आवंटित की गयी है और उनका व्यापार अन्य स्थल पर स्थानान्तरित होने पर कुछ वक्त के लिए व्यापार प्रभावित होने के एवज में प्रति दुकानदार एक से 10 लाख रूपये तक (हटायी गयी दुकान के आकार के आधार पर) मुआवजे का भुगतान उनके खाते में अलग से किया गया है.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

बयान के अनुसार मार्गो/पथों के सौन्दर्यीकरण अथवा चौड़ीकरण से पूर्ण रूप से स्थानान्तरित कुल 79 परिवारों को बसा दिया गया है. इससे कुल 1845 भू-स्वामी/भवन स्वामी प्रभावित हुये, जिन्हें नियमानुसार 300.67 करोड़ रुपये मुआवजे के रूप में उनके खाते में दिये गये हैं.

 

 

जिलाधिकारी के मुताबिक अयोध्या में नवनिर्मित महर्षि वाल्मीकि अन्तरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के निर्माण के लिए प्रभावित सभी परिवारों को नियमानुसार पुर्नवासित कराया गया है तथा प्रभावित खातेदारों से समन्वय स्थापित कर उनके सहमति के आधार पर भूमि ली गई. कुल 952.39 करोड़ रूपये का भुगतान भू-स्वामियों/भवन स्वामियों के खाते में किया गया.   

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT