window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

यूपी के लड़कों को हनी ट्रैप कर रही बेंगलुरु की रेशमा! खेल रही धर्म परिवर्तन का ‘गंदा खेल’

संतोष शर्मा

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले में गेमिंग ऐप के जरिए कथित तौर पर बच्चों के धर्मांतरण का मामला पिछले दिनों सामने आया था. अब ऐसा ही एक मामला सहारनपुर जिले से सामने आया है. यहां ऑनलाइन गेमिंग ऐप से पहले नौजवान लड़के को कथित तौर पर हनी ट्रैप में फंसाया गया और फिर उसका धर्मांतरण करा दिया गया.

फिलहाल यूपी एटीएस हनी ट्रैप में शामिल उस लड़की की तलाश शुरू कर दी है. यूपी एटीएस को शक है कि हनी ट्रैप में फंसाकर धर्मांतरण का यह अकेला मामला नहीं है. कई नौजवानों को हनी ट्रैप में फंसाकर धर्मांतरण कराया जा रहा है. सदर बाजार थाना क्षेत्र का यह मामला है.

विस्तार से जानें पूरा मामला

जानकारी के मुताबिक, ऑनलाइन कैरम गेम के जरिए हनी ट्रैप में रोहित नामक युवक को फंसाया गया था. शुरुआती पूछताछ में अवैध धर्मांतरण कराने वाले आरोपी नाजिम हसन ने कबूला कि दवा लेने के बहाने युवक रोहित उसके संपर्क में आया था. बातचीत के दौरान उसने रोहित को मोबाइल पर ही इस्लाम से जुड़ा साहित्य पढ़ने के लिए दिया था. साथ ही उसने इस्लाम की अच्छाइयों को बताने वाले कई वेबसाइट का लिंक भेजा था, जिससे ऑनलाइन अवैध धर्मांतरण के सिंडिकेट में रोहित फंस गया था. ऑनलाइन कैरम गेम जरिए बेंगलुरु की रेशमा नामक लड़की से रोहित का संपर्क हुआ था. रेशमा ने हनी ट्रैप में फंसा कर रोहित को निकाह करने के लिए धर्मांतरण करने को मनाया था.

सदर बाजार थाना क्षेत्र में रहने वाली एक महिला की तहरीर पर एक मुकदमा दर्ज किया गया है. इसमें कहा गया है कि ऑनलाइन गेमिंग ऐप कैरम के जरिए एक लड़की ने उनके बेटे को फंसाकर धर्मांतरण करवाया है. इस मामले में 4 लोगों के खिलाफ मुकदमा लिखा गया है, जिसमें पुलिस ने 3 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है.

जानकारी के अनुसार, युवक रोहित का मोबाइल फॉर्मेट किया जा चुका है. यूपी एटीएस डाटा रिकवर कराने में जुटी है. जरूरत पड़ने पर डाटा रिकवर करने के लिए रोहित का मोबाइल गुजरात फॉरेंसिक लैब भेजा जाएगा. हनी ट्रैप का मोहरा बनी रेश्मा का सोशल मीडिया अकाउंट पाकिस्तान से चलाया जा रहा है.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

पुलिस ने क्या कहा?

एसएसपी सहारनपुर विपिन टाडा ने बताया, “अभी इस प्रकरण में विवेचना और चल रही है, जिससे कि आगे जो भी और लोग इसमें शामिल हैं या किस प्रकार से और लोगों पीड़ितों को इसमें भ्रमित किया गया है, इसकी जांच की जा रही है. तमाम साक्ष्यों के आधार पर अग्रिम कार्रवाई की जाएगी.”

फिलहाल इस मामले में एटीएस चीफ प्रशांत कुमार का कहना है कि अवैध धर्मांतरण के मामले में जांच की जा रही है. इसमें शामिल सभी लोगों को गिरफ्तार किया जाएगा.

(गजेंद्र त्रिपाठी के इनपुट्स के साथ)

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT