window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

4 दिन तक चढ़ाता रहा खुरपी की धार फिर इश्क के चक्कर में नाबालिग ने पिता, मां, बड़े भाई को काट डाला

विनय कुमार सिंह

ADVERTISEMENT

Ghazipur Tripple Murder
Ghazipur Tripple Murder
social share
google news

न्यूज़ हाइलाइट्स

point

एक ही परिवार के 3 लोगों का शव मिलने से मचा था हड़कंप.

point

नाबालिग बेटा ही निकला अपने परिवार की हत्या का आरोपी.

point

इश्क के चक्कर में अपने ही परिवार को उतार दिया मौत के घाट.

UP News: गाजीपुर में एक ही परिवार के 3 लोगों की हत्या का पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा किया है. पुलिस ने खुलासा करते हुए बताया है कि परिवार के छोटे बेटे ने ही अपने परिवार का अपने ही हाथों से खात्मा किया था. नाबालिग छोटे बेटे ने ही अपने माता-पिता और बडे़ भाई की हत्या करके उन तीनों को मौत के घाट उतार डाला था.

बता दें कि गाजीपुर के नंदगंज थाना क्षेत्र के कुसुम्ही कलां गांव में कल यानी 8 जुलाई के दिन ट्रिपल मर्डर ने सनसनी मचा दी थी. एक ही परिवार के 3 लोगों का शव उनके घर पर मिला था. 45 वर्षीय रामाशीष बिंद, उनकी पत्नी 40 वर्षीय देवंती बिंद और 20 वर्षीय बेटे आशीष बिंद की गला रेत कर हत्या की गई थी. उस दौरान छोटे बेटे का कहना था कि जैसे ही वह अपने घर आया, उसने घर पर अपने माता-पिता और भाई को मृत पाया. मगर अब पुलिस ने इस मामले का जो खुलासा किया है, उसने सभी को हिला कर रख दिया है. जांच में सामने आया है कि प्रेम प्रसंग के चलते छोटे बेटे ने अपने ही परिवार को मारा है.

नादान इश्क और कर दिया अपने ही परिवार को खत्म

पुलिस जांच में सामने आया है कि नाबालिग छोटे बेटे ने ही अपने हाथों से अपने परिवार को मार डाला. छोटे बेटे ने अपने पिता मुंशी, मां देवंती और बड़े भाई आशीष की गला रेत कर हत्या की थी.  आरोपी ने खुरपी से तीनों का गला रेताकर इस घटना को अंजाम दिया था. जांच में ये भी सामने आया है कि आरोपी नाबालिग पिछले 4 दिनों से अपने परिवार को मारने की योजना बना रहा था. फिलहाल गाजीपुर पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया है.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

4 दिनों से कर रहा था खुरपी की धार तेज

इसके लिए वह पिछले 4 दिनों से खुरपी की धार तेज कर रहा था. मगर किसी को शक ही नहीं हुआ कि उसके दिमाग में अपने ही परिवार को खत्म करने की योजना चल रही है. जांच में सामने आया है कि नाबालिग का प्रेम-प्रसंग गांव की ही एक लड़की से चल रहा था. मगर परिवार इस रिश्ते के खिलाफ था. ऐसे में नाबालिग आरोपी अपने माता-पिता और बड़े भाई से खार खाए बैठा था. उसे लगता था कि उसका परिवार ही उसके प्रेम में रोड़ा बन रहा है. 

इसी वजह से उसने अपने परिवार को ही रास्ते से हटा डाला और अपने माता-पिता और बड़े भाई की हत्या कर दी. फिलहाल पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया है. बताया जा रहा है कि मामले की जांच के दौरान पुलिस को छोटे बेटे पर ही शक हुआ. उसके बयानों को जब जांचा गया तो गड़बड़ी पाई गई और पुलिस ने इस पूरे मामले का खुलासा कर दिया.

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT