window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

गंदी बात करने का तरीका सिखाने वाली गाजियाबाद की यूट्यूबर शिखा मैत्रेय अरेस्ट, इसकी कहानी चौंकाऊ

यूपी तक

ADVERTISEMENT

YouTuber Kuwari Begum
YouTuber Kuwari Begum
social share
google news

UP News: यूट्यूब पर नाम और पैसों के लिए बच्चों का यौन शोषण कैसे करें’ जैसी शर्मनाक वीडियो बनाने वाली महिला यूट्यूबर 'कुंवारी बेगम' को आखिरकार गिरफ्तार कर लिया गया है. बता दें कि गाजियाबाद पुलिस ने महिला के खिलाफ केस दर्ज किया था, जिसके बाद ये पूरा मामला खासा चर्चाओं में आ गया था. अब गाजियाबाद के थाना कौशांबी पुलिस ने इस महिला को अरेस्ट कर लिया है. 

सहायक पुलिस आयुक्त इन्दिरापुरम (कार्यवाहक) रितेश त्रिपाठी ने जानकारी देते हुए बताया है कि गाजियाबाद की थाना कौशांबी पुलिस टीम ने ऑनलाइन यूट्यूब के माध्यम से बच्चों को स्पष्ट यौन कृत्यों के लिए प्रेरित करने तथा बच्चों के प्रति दुर्व्यवहार को बढ़ावा देने वाली आरोपी को अरेस्ट कल लिया है. 

यूट्यूब पर सिखाती थी गंदी बात

दरअसल यूट्यूब पर कुंवारी बेगम नाम से चैनल बना हुआ था. इस चैनल पर यूट्यूबर महिला गंदी बात सिखाती थी. वह बताती थी कि बच्चों का यौन शोषण कैसे किया जाए. मास्टरबेट कैसे किया जाए? इस तरह की ना जाने कितनी अश्लील औऱ गंदी बात वह सिखाती थी. वह यूट्यूब पर बच्चों के यौन शोषण के कई तरीके बताती थी.  

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग और राष्ट्रीय महिला आयोग तक पहुंच गया था मामला 

बता दें कि सोशल मीडिया पर भी कई लोगों ने इस यट्यूबर के खिलाफ पुलिस से कार्रवाई की मांग की थी. लोगों का कहना था कि ये महिला यूट्यूबर बच्चों की सुरक्षा को खतरे में डाल रही है. ये पूरा मामला राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग और राष्ट्रीय महिला आयोग तक पहुंच गया था. इसके बाद गाजियाबाद पुलिस ने 12 जून की देर शाम यूट्यूबर कुंवारी बेगम के के खिलाफ FIR दर्ज की थी और मामले की जांच शुरू कर दी थी. बता दें कि केस दर्ज होने के बाद यूट्यूब चैनल से आपत्तिजनक कंटेंट वाले कुछ वीडियो हटा दिए गए हैं. 

कौन है कुंवारी बेगम?

बता दें कि इस पूरे मामले में 'एकम न्याय फाऊंडेशन' की संस्थापक दीपिका नारायण भारद्वाज ने कुंवारी बेगम के खिलाफ पुलिस में केस दर्ज करवाया है. शिकायत के मुताबिक, इस महिला यूट्यूबर का असली नाम शिखा मैत्रेय है, जो कुंवारी बेगम के नाम से बच्चों की सुरक्षा को खतरे में डाल रही है.

ADVERTISEMENT

शिकायत के मुताबिक, शिखा मैत्रेय गाजियाबाद की रहने वाली है. इसने NEFT से साल 2021-22 में पढ़ाई भी की है. फिलहाल शिखा मैत्रेय दिल्ली में काम करती है. बता दें कि अब पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है.

अभी तक इसके बारे में क्या-क्या पता चला?

मिली जानकारी के मुताबिक, गिरफ्तार महिला यू ट्यूबर की उम्र 23 साल है. वह मसूरी थाना क्षेत्र के इंद्रगढ़ी इलाके में रहती है. वह बैंगलोर में आदित्या बिड़ला कंपनी में भी जॉब कर चुकी है. वह पिछले 2 सालों से अपना यूट्यूब चैनल चला रही है. मिली जानकारी के अनुसार, वह पिछले 3 महीने से ज्यादा एक्टिव हैं. फिलहाल युवती का कहना है कि उसके वीडियो के साथ छेड़छाड़ की गई है.

ADVERTISEMENT

(गाजियाबाद से मयंक गौड़ के इनपुट के साथ)

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT