हमीरपुर: ममता का कत्ल! नदी में मिला नवजात का शव, पैदा होते ही फेंके जाने की आशंका

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले में एक दिल दहला देने वाले घटना सामने आई है. जहां मंगलवार को एक बार फिर एक नवजात बच्चे का शव नदी के पानी में तैरता मिलने से हड़कंप मच गया है. एक महीने के अंदर नवजात बच्चे का यह तीसरा शव बरामद हुआ है. हमीरपुर जिले की मौदहा कोतवाली क्षेत्र की यह घटना है. शव को देखकर यह माना जा रहा है कि किसी महिला ने लोक लाज के भय से इस बच्चे को पैदा होते ही नदी में फेंक दिया है.

फिलहाल पुलिस मौके पर पहुंच गई है और शव को नदी से बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. शव मिलने का यह मामला मौदहा थाना कोतवाली क्षेत्र के गुरदाहा गांव का है.

बता दें कि गुरदाहा गांव के बाहर से बहने वाली श्याम नदी में आज कुछ लोगों की नज़र एक शव पर पड़ी तो सनसनी फैल गई. इसी दौरान किसी ने इसकी सूचना मौदहा कोतवाली पुलिस को दे दी. जिसने मौके पर पहुंच कर शव को नदी से बरामद कर लिया है और जांच पड़ताल करते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. गुरादहा गांव में लोगों के बीच यह चर्चा है की किसी ने लोकलाज के भय से इस बच्चे को पैदा होते ही नदी में फेंक दिया है, जो उस वक्त जिंदा रहा होगा.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

गांव के प्रधान प्रदीप यादव से जब इस संबंध में बात की गई तो यह भी शव के बारे में कुछ बता नहीं सके, इनका भी मानना है की किसी महिला ने लोकलाज़ के भय से इसे नदी में फेंक दिया है.

मौदहा कोतवाली क्षेत्र में एक महीने के अंदर बच्चे के शव मिलने का यह तीसरा मामला है. इससे पहले 25 दिसंबर को मौदहा कोतवाली कस्बे के हैदरगंज मुहल्ले में भी एक नवजात का शव नाली में मिला था. जिसका आज तक पता नहीं चल सका की वह शव किसने फेंका था और आज गुरदाह गांव की शयाम नदी में दूसरे नवजात का शव मिला है. इस मामले में मौदहा कोतवाली प्रभारी हेमंत मिश्रा का कहना है कि शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है, आगे की वैधानिक कार्यवाहियां प्रचलित हैं.

मुजफ्फरनगर: 12 साल के बच्चे पर पिटबुल ने अचानक किया हमला, लगवाने पड़े दर्जन भर टांके

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT