नोएडा-गाजियाबाद में फेसबुक से चलाते थे क्राइम का नेटवर्क, यूं लोगों को बनाते थे निशाना

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

दिल्ली की जेल से निकले बदमाश ने फेसबुक के माध्यम से चोरी और लूट की घटनाओं को अंजाम देने के लिए एक गैंग बनाया. यह गैंग दिल्ली-एनसीआर में लूट और चोरी की वारदातों को अंजाम दे रहा था. गाजियाबाद की घंटाघर कोतवाली पुलिस ने इस गिरोह के सरगना समेत पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

सीओ महिपाल सिंह ने बताया कि कोतवाली पुलिस की टीम क्षेत्र में चेकिंग कर रही थी. इस दौरान विजय नगर फ्लाईओवर कट के पास से 2 बाइक सवार 5 युवकों को चेकिंग के दौरान पकड़ा गया. जांच के दौरान दोनों बाइक चोरी की पाई गईं, जो दिल्ली से चुराई गई थीं. पकड़े गए बदमाशों के नाम गौरव राजपूत, रोहित उर्फ सोनू, विकास, विराट और संदीप खर्रा हैं. गौरव दिल्ली का रहने वाला है और हाल ही में जेल से छूटा है.

गिरफ्तार बदमाशों ने पुलिस पूछताछ में बताया,

“हम लोग अलग-अलग राज्यों के रहने वाले हैं. हमारी पहचान फेसबुक के माध्यम से हुई. घटना को अंजाम देने से पहले हम दिन में बाइक से रेकी करते हैं. आज हम विजय नगर फ्लाईओवर कट पर एकत्रित हुए थे और हमें हाईवे से एक गाड़ी छीननी थी. और इसके बाद विजय नगर प्रताप विहार में एक बड़ी घटना को अंजाम देना था.”

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

इन बदमाशों की गिरफ्तारी के बाद चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं. आपको बता दें कि यह गिरोह लूट से पहले अपने टारगेट का चुनाव करता था. फिर अपने गैंग के साथियों से उस टारगेट का फोटो और लोकेशन शेयर करता था, जिसके बाद यह सब मिलकर लूट की वारदात को अंजाम देते थे.

बदमाशों के पास से पुलिस ने ये बरामद किया

आपको बता दें कि पुलिस ने आरोपियों के पास से 315 बोर के 3 तमंचे, 2 चाकू, चोरी की 2 बाइक और 3 मोबाइल फोन बरामद किए हैं. गिरफ्तार बदमाशों में से संदीप खर्रा राजस्थान का रहने वाला है और इससे पहले अवैध हथियार रखने के मामले में जेल जा चुका है. सभी बदमाशों की उम्र 20 से 24 साल है.

ADVERTISEMENT

रिपोर्ट: तंसीम हैदर

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT