मेरठ: समलैंगिक ग्रुप से जुड़े युवकों ने ब्लैकमेलिंग से तंग आकर LLB छात्र को दी दर्दनाक मौत

शनिवार देर रात सदीक नगर के नाले से पुलिस ने यश का शव बरामद किया.
शनिवार देर रात सदीक नगर के नाले से पुलिस ने यश का शव बरामद किया. फोटो कोलाज: यूपी तक

मेरठ (Meerut News) में 26 जून से लापता एलएलबी छात्र यश रस्तोगी का शव शनिवार देर रात सदीक नगर के नाले से पुलिस ने बरामद किया. पुलिस ने इस मामले में तीन युवकों को गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक यश की हत्या कर उसकी लाश बोरे में डालकर नाले में फेंक दी गई थी. पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है.

दरअसल, मेडिकल थाना क्षेत्र के जागृति विहार सेक्टर-6 के रहने वाले अनिल रस्तोगी का बेटा यश (22) 26 जून की शाम 4 बजे स्कूटी लेकर घर से निकला था, लेकिन वापस नहीं लौटा. परिजनों ने इसकी सूचना पुलिस को दी. जिसके बाद पुलिस ने यश की तलाश शुरू कर दी.

पुलिस ने जब यश के मोबाइल की लोकेशन निकाली, तो उसका आखिरी लोकेशन मेरठ के लिसाड़ी गेट क्षेत्र का मिला. जिसके बाद मृतक के कॉल डिटेल के आधार पर पुलिस ने आरोपी आलीशान, सलमान और शावेज को हिरासत में लिया. बाद में इन्हें गिरफ्तार कर लिया गया.

पुलिस ने तीनों से पूछताछ की तो पूरा मामला सामने आया. बताया जा रहा है कि यह मामला समलैंगिक ग्रुप से जुड़ा है और यश ने इन आरोपी युवकों का एक वीडियो बना रखा था. जिससे वह लगातार उनको ब्लैकमेल कर रहा था.

जानकारी के मुताबिक, आरोपियों ने पैसे देने के लिए यश को लिसाड़ी गेट बुलाया था. लेकिन वहां आरोपियों और मृतक के बीच किसी बात को लेकर विवाद हो गया. जिसके बाद आरोपी शावेज ने आलीशान के साथ मिलकर कथित तौर पर यश की हत्या कर दी और शव को ठिकाने लगाने के लिए सलमान को बुला लिया.

इस पूरे मामले को लेकर एसपी सिटी विनीत भटनागर ने बताया कि थाना मेडिकल क्षेत्र की यह घटना है, जहां से यश रस्तोगी नाम का एक युवक गुमशुदा था और उसकी गुमशुदगी भी थाने में लिखी गई थी. धारा 364 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था. लगातार पुलिस की कई टीमें इस मामले की छानबीन में लगी थीं.

विनीत भटनागर ने बताया कि लगभग ढाई सौ से ऊपर सीसीटीवी चेक किए गए. जिससे यह बात सिद्ध हो गई कि यश घर से अकेला गया था. जिसके बाद एक जगह सीसीटीवी फुटेज आना बंद हो गया. फिर सभी चीजों को चेक किया गया. जिसके बाद तीन आरोपी युवकों के नाम सामने आए. उनके द्वारा ही यश की हत्या कर दी गई थी.

विनीत भटनागर ने यह भी बताया कि जानकारी मिली रही है कि यह लोग एक gay ऐप से जुड़े हुए थे. इसके बारे में पूरी जांच की जा रही है. जैसे-जैसे साक्ष्य आएंगे उसके हिसाब से आगे की कार्रवाई की जाएगी. जिन तीन लोगों ने हत्या की थी उनको गिरफ्तार कर लिया गया है.

उन्होंने आगे बताया कि हत्या किस प्रकार की गई है, फिलहाल यह स्पष्ट नहीं है. पोस्टमॉर्टम में भी मृत्यु का कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है. विसरा की जांच के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी.

ये भी पढ़ें-

शनिवार देर रात सदीक नगर के नाले से पुलिस ने यश का शव बरामद किया.
मेरठ: मामूली विवाद में पत्नी की बेरहमी से हत्या, आरोपी पति ने थाने में किया सरेंडर

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in