गोरखपुर: विवाहिता का आरोप- पति और उसका दोस्त करते हैं दुष्कर्म, वीडियो बनाकर धमका रहे हैं

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीरफोटो: यूपी तक

गोरखपुर के खोराबार थाना क्षेत्र में एक महिला ने अपने पति और उसके दोस्त पर दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है. महिला का कहना है कि शादी के 6 महीने बाद पति अपने दोस्त के साथ मिलकर दुष्कर्म करता है. यहीं नहीं दुष्कर्म करते समय वीडियो भी बनाया है जिसे वायरल करने की धमकी देता है. विरोध करने पर दोनों मारपीट करते हैं.

अहम बिंदु

खोराबार थाना क्षेत्र की एक महिला ने अपने पति और पति के दोस्त पर मारपीट करने, दहेज के लिए प्रताड़ित करने, रेप करने और रेप का वीडियो बनाकर उसे वायरल करने की धमकी दिए जाने का आरोप लगाया है. स्थानीय पुलिस ने महिला के खोराबार क्षेत्र निवासी पति और उसके दोस्त बासगांव थाना क्षेत्र निवासी विक्की उर्फ लक्की के खिलाफ धारा 323, 504, 506, 354, 376, 498 ए व 67 आईटी एक्ट के तहत केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है. पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है.

मामला दर्ज करने में पुलिस बरत रही थी ढिलाई

पीड़ित महिला अपने पति और उसके दोस्त के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के लिए थाने में गई पर पुलिस ने जब मामला दर्ज नहीं किया तो महिला एडीजी जोन कार्यालय पहुंची. जहां पर एडीजी ने महिला को आश्वासन दिया. जिसके बाद तुरंत स्थानीय पुलिस ने पीड़ित महिला का एफआईआर दर्ज कर आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास शुरू कर दिए हैं.

अहम बिंदु

जानिए पूरा मामला

खोराबार थानाध्यक्ष के अनुसार क्षेत्र के जंगल चवंरी निवासी एक महिला ने खोराबार पुलिस को तहरीर दी कि उसका पति बीते 6 माह से आए दिन शराब के नशे में अपने दोस्त के साथ घर आता है. पति बगैर सहमति के उसके साथ शारीरिक संबंध बनाता है साथ ही अपने दोस्त के साथ भी शारीरिक संबंध बनवाता है. विरोध करने पर उसकी पिटाई की जाती है.

इतना ही नहीं वह जान से मारने और घर से निकालने की भी धमकी देता है. वो दहेज के लिए भी प्रताड़ित करता है. इस मामले में गांव में पंचायत हुई थी, लेकिन उसके अंदर कोई सुधार नहीं आया. बीते 6 जून को पति अपने दोस्त विक्की के साथ घर पर आया और मारपीटकर दोनों ने बारी-बारी से जबरदस्ती दुष्कर्म किया और वीडियो बनाकर वायरल करने की धमकी देने लगे.

सांकेतिक तस्वीर
हरदोई: पति के अप्राकृतिक दुष्कर्म का पत्नी ने किया विरोध तो मिली ये सजा

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in