अंसारी परिवार की मुसीबतें बढ़ीं! मुख्तार को सजा मिलने के बाद अब BSP सांसद अफजाल पर आरोप तय

गाजीपुर के बसपा सांसद अफजाल अंसारी.
गाजीपुर के बसपा सांसद अफजाल अंसारी.फोटो: विनय कुमार सिंह

Ghazipur News: गाजीपुर के बाहुबली कहे जाने वाले अंसारी परिवार पर मुसीबतें कम होती नजर नहीं आ रही हैं. जहां पूर्व विधायक मुख्तार अंसारी को कोर्ट ने अलग-अलग मामलों में सजा सुना दी है. वहीं एक पुराने मामले में उनके भाई और गाजीपुर के बसपा सांसद अफजाल अंसारी के ऊपर गाजीपुर की गैंगस्टर कोर्ट ने शुक्रवार आरोप तय किए. बता दें कि यह मामला साल 2005 का है, तत्कालीन भाजपा विधायक कृष्णानंद राय समेत सात लोगों की बासनियां चट्टी पर हत्या कर दी गई थी. इस मामले में अफजाल अंसारी और मुख्तार अंसारी के साथ आधा दर्जन लोग आरोपित किए गए थे.

अहम बिंदु

गौरतलब है कि इस मुकदमे में मुख्तार अंसारी और अफजाल अंसारी जेल में भी बंद रहे थे. लिहाजा उनके खिलाफ 120 बी के तहत आरोप तय किए गए थे. मगर 2019 में लोअर कोर्ट में गवाहों के मुकर जाने के बाद इस मुकदमे से अफजाल अंसारी और मुख्तार अंसारी समेत सभी बरी कर दिए गए थे. मगर 2007 से यह मुकदमा गाजीपुर की एमपी-एमएलए कोर्ट कोर्ट में अलग से विचाराधीन था.

इस मुकदमे में अलग से सुनवाई होनी थी, जिसका ट्रायल हो रहा था. बता दें कि अभी कुछ दिन पहले ही अफजाल अंसारी को कोर्ट ने नोटिस भेजकर गैंगस्टर कोर्ट में तलब किया गया था और न्यायाधीश ने आज शुक्रवार को सुनवाई के बाद आरोप तय कर दिए.

इस मामले में खुद गाजीपुर के सांसद अफजाल अंसारी कोर्ट ने उपस्थित हुए और अपनी दलील दी. कोर्ट के फैसले के बाद जब वह बाहर निकले तो उन्होंने पत्रकारों को बताया कि 'इस मामले में मुझे 2019 में बरी कर दिया गया था, लेकिन यह एक अलग कोर्ट है और यहां अलग सुनवाई होनी थी. जब मुझे कोर्ट ने नोटिस दिया था, तब मैं उच्च न्यायालय गया था, लेकिन वहां से स्टे ना मिलने से आज कोर्ट में तारीख थी, इसलिए आया था. आज कोर्ट ने आरोप तय किए हैं और इसका मुकदमा और इसकी विवेचना में मैं पूरा सहयोग दूंगा.'

वही गैंगस्टर कोर्ट के एडीजीसी क्रिमिनल नीरज श्रीवास्तव ने भी कोर्ट की कार्रवाई में सांसद पर आरोप तय होने की पुष्टि की और बताया कि बीते सितंबर माह में अफजाल अंसारी को इस मामले में नोटिस देकर तलब किया गया था. उन्होंने बताया कि इनको अपना पक्ष रखने का भी मौका दिया गया था और आज तय तिथि पर अफजाल अंसारी स्वयं उपस्थित थे. कोर्ट ने इस मामले में आरोप तय कर दिए हैं और अगली सुनवाई 3 अक्टूबर 2022 को होगी.

गाजीपुर के बसपा सांसद अफजाल अंसारी.
मुख्तार को गैंगस्टर केस में मिली 5 साल की सजा, जेलर को धमकाने पर मिल चुकी है 7 साल की जेल

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in