कानपुर में मनीष गुप्ता के परिजनों से मिले अखिलेश, बोले- परिवार को मिले 2 करोड़ की मदद

ADVERTISEMENT

समाजवादी पार्टी (एसपी) के अध्यक्ष अखिलेश यादव 30 सितंबर को कानपुर पहुंचे, जहां उन्होंने कथित तौर पर पुलिस की पिटाई की वजह से जान गंवाने…
social share
google news

समाजवादी पार्टी (एसपी) के अध्यक्ष अखिलेश यादव 30 सितंबर को कानपुर पहुंचे, जहां उन्होंने कथित तौर पर पुलिस की पिटाई की वजह से जान गंवाने वाले मनीष गुप्ता के परिजनों से मुलाकात की. कानपुर में अखिलेश ने कहा कि हाई कोर्ट के मौजूदा जज की निगरानी में इस मामले की जांच हो या फिर सीबीआई जांच होनी चाहिए.

एसपी अध्यक्ष ने यह भी कहा कि पीड़ित परिवार को 2 करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता मिलनी चाहिए. उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी इस परिवार की 20 लाख रुपये से मदद करेगी. अखिलेश ने कहा कि मृतक की पत्नी पढ़ी-लिखी हैं, इसलिए सरकार उन्हें क्लास वन या क्लास टू की नौकरी दे.

इसके अलावा उन्होंने कहा, ”बहुत दुखद है. कोई कल्पना नहीं कर सकता कि ऐसी भी घटना हो सकती है. कोई कल्पना नहीं कर सकता है कि कोई घूमने जाए, अपने साथियों के साथ व्यापार के काम के लिए जाए और उसके परिवार के लोगों को जान जाने की सूचना मिले.”

अखिलेश यादव ने कहा,

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

”ये बहुत ही गंभीर घटना हुई है. पुलिस की जिम्मेदारी है लोगों की सुरक्षा करने की, जिम्मेदारी ये बनती है कि जहां मान-सम्मान की रक्षा हो, वहीं जान की भी रक्षा हो. लेकिन उत्तर प्रदेश में, भारतीय जनता पार्टी की सरकार में, पुलिस रक्षा नहीं कर रही है, पुलिस लोगों की जान ले रही है.”

अखिलेश यादव, एसपी अध्यक्ष

एसपी अध्यक्ष ने कहा कि उत्तर प्रदेश में पुलिस का ऐसा व्यवहार किसी सरकार में देखने को नहीं मिला होगा.

ADVERTISEMENT

क्या है मामला?

सोमवार-मंगलवार की दरम्यानी रात को गोरखपुर के एक होटल में पुलिस की दबिश के बाद मनीष की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी. मनीष के साथ होटल में रुके उनके दोस्त हरवीर सिंह ने बताया कि वे होटल कृष्‍णा पैलेस के अपने रूम नंबर 512 में सो रहे थे.

हरवीर ने बताया कि देर रात पुलिसवालों ने दरवाजा खुलवाया और आईडी चेक करने लगे, मनीष ने देर रात की जांच पर सवाल उठाए, तो पुलिसवाले सामान तक चेक करने के बाद पीटने लगे. हरवीर का आरोप है कि पुलिसवाले शराब के नशे में भी थे, देर रात में की जा रही चेकिंग को लेकर सवाल पूछने पर उन्होंने पीटा.

मनीष गुप्ता डेथ केस: कानपुर में पीड़ित परिजनों से मिले अखिलेश यादव, देखें तस्वीरें

follow whatsapp

ADVERTISEMENT