कांग्रेस नेता शाहनवाज आलम ने अखिलेश पर साधा निशाना, ओपी राजभर को लेकर कही दी ये बड़ी बात

अखिलेश यादव, शाहनवाज आलम और ओपी राजभर (लेफ्ट से राइट)
अखिलेश यादव, शाहनवाज आलम और ओपी राजभर (लेफ्ट से राइट)फोटो कोलाज: यूपी तक

समाजवादी पार्टी (SP) से गठबंधन तोड़ने के बाद सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (SBSP) ओम प्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) कहां जाएंगे? यह तो खुद राजभर जानते हैं लेकिन उनके जुबान पर बसपा और कांग्रेस का नाम बार-बार आ रहा है.

कांग्रेस पार्टी राजभर को लेकर क्या सोचती है? अखिलेश यादव के नेतृत्व वाले एसपी के सहयोगी दलों का SP से गठबंधन क्यों टूट रहा है? इन तमाम मुद्दों पर उत्तर प्रदेश अल्पसंख्यक कांग्रेस के चेयरमैन शाहनवाज आलम ने यूपी तक से बातचीत की.

शाहनवाज ने एसपी चीफ पर हमला बोलते हुए कहा, "बार-बार गठबंधन का टूटना अखिलेश यादव की नेतृत्व क्षमता पर सवाल खड़े करता है. अखिलेश यादव की पार्टी के जो कोर वोटर मुस्लिम था उसको लगा कि बार-बार वह वोट लेकर उनको हाशिए पर रख रहे हैं. चुनाव के दौरान आजम खान जैसे तमाम मुस्लिम नेताओं को उन्होंने मंच से भगा दिया. अब लोगों को भी लगता है कि वह सहयोगी का सम्मान नहीं करते हैं. गठबंधन का धर्म साथ आने वाले व्यक्ति और पार्टी के सम्मान का भी होता है."

कांग्रेस नेता ने कहा कि जो परिपक्वता अखिलेश यादव के अंदर आनी चाहिए थी, वह अभी तक नहीं आई है. उन्होंने कहा, "विधानसभा चुनाव के बाद मुसलमानों का समाजवादी पार्टी से मोहभंग हुआ है. अब एसपी का एमवाई फैक्टर का बेस वोट खिसक रहा है."

शाहनवाज ने कहा, "ओम प्रकाश राजभर भले ही कांग्रेस का नाम ले रहे हो, लेकिन दो दिन बाद ओम प्रकाश राजभर किसका नाम ले ले लेंगे, यह वह खुद नहीं जानते. कांग्रेस लगातार बीजेपी के खिलाफ लड़ रही है. जो भी हमारे साथ आएगा, उसका स्वागत करेंगे, क्योंकि 2024 में सरकार बदलने या बनाने की लड़ाई नहीं है, संविधान बचाने की लड़ाई है."

कांग्रेस नेता ने राजभर को लेकर कहा,

"जो व्यक्ति बार-बार तलाक की बात करता है, उसकी क्रेडिबिलिटी पर सवाल खड़े हो जाते हैं. जिस तरह से ओम प्रकाश राजभर ने राष्ट्रपति चुनाव में बयान दिया, लेकिन राजनीति में वैचारिक प्रतिबद्धता भी मायने रखती है. अगर कोई वैचारिक विरोधी व्यक्ति हमारी जाति के व्यक्ति को खड़ा करता है, तो क्या हम उसके साथ चले जाएंगे."

शाहनवाज आलम

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की संख्या भले ही कम है, लेकिन वह लड़ तो रही है, जिनके पास संख्या है वह घर में डरे हुए बैठे हैं.

अखिलेश यादव, शाहनवाज आलम और ओपी राजभर (लेफ्ट से राइट)
ओपी राजभर ने अखिलेश का 'तलाक' मंजूर कर कहा- इसका इंतजार था, बोले- अब BSP के साथ जाएंगे

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in