ओम प्रकाश राजभर को फिर मिला बीजेपी में शामिल होने का न्योता, मंत्री दयाशंकर ने दिया 'ऑफर'

ओम प्रकाश राजभर को फिर मिला बीजेपी में शामिल होने का न्योता, मंत्री दयाशंकर ने दिया 'ऑफर'

(फोटो कोलाज: यूपी तक)

उत्तर प्रदेश के परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह ने गुरुवार को सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर को भाजपा में शामिल होने का खुला निमंत्रण दिया. ऐसी चर्चाएं हैं कि राजभर आगामी विधान परिषद चुनाव में नजरअंदाज किए जाने के बाद समाजवादी पार्टी से नाखुश हैं. जिला मुख्यालय में एक सरकारी कार्यक्रम से इतर पत्रकारों से बातचीत करते हुए सिंह ने सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर को भाजपा में शामिल होने का न्योता दिया.

अहम बिंदु

गौरतलब है कि समाजवादी पार्टी ने बुधवार को विधान परिषद चुनाव के लिए चार प्रत्याशियों की सूची जारी की है, जिनमें विधानसभा चुनाव से ठीक पहले भारतीय जनता पार्टी से सपा में आए स्वामी प्रसाद मौर्य का नाम शामिल था. सुभासपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता पीयूष मिश्रा ने बुधवार को कहा था, ‘‘सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव का फैसला सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के कार्यकर्ताओं के लिए निराश करने वाला है.

उन्होंने राज्यसभा के हाल में हुए चुनाव का हवाला देते हुए राष्ट्रीय लोकदल का नाम लिए बगैर कहा, ‘‘एक सहयोगी दल 38 सीट लड़कर आठ सीट जीतता है, तो उसे राज्यसभा और हम 16 सीट लड़कर छह सीट जीतते हैं तो हमारी उपेक्षा। ऐसा क्यों?’’ मिश्रा का इशारा हाल ही में सपा के कोटे से राज्यसभा चुनाव जीतने वाले राष्ट्रीय लोकदल के जयंत चौधरी की ओर था.

दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने पीयूष मिश्रा के ट्वीट का समर्थन किया था. उन्होंने दल के रसड़ा स्थित प्रधान कार्यालय पर संवाददाताओं से बातचीत में कहा था, ‘‘पीयूष मिश्रा दल के राष्ट्रीय प्रवक्ता हैं. उनकी बातों में दम है. वह मिश्रा की भावनाओं से सहमत हैं. जो सच है, उसे तो स्वीकार करना ही पड़ेगा.’’ उन्होंने सपा द्वारा उपेक्षा किये जाने को लेकर पूछे जाने पर कहावत का उल्लेख करते हुए कहा, ‘‘जब हमारी इज्जत ही नहीं है तो बेइज्जत कौन करेगा. जब हमारी कोई इच्छा ही नहीं है तो कोई उपेक्षा क्या करेगा.’’

उप्र सरकार में मंत्री दयाशंकर सिंह ने समाजवादी पार्टी गठबंधन में टूट की खबरों को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में आरोप लगाया कि सपा ने महान दल के नेता केशव देव मौर्य और सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर को धोखा दिया है. उन्होंने कहा, ‘‘सपा ने इनके साथ किया वादा नहीं निभाया. दोनों ही दलों की विचारधारा भाजपा से मिलती है. इनकी विचारधारा सपा के साथ मेल नहीं खाती. ओमप्रकाश राजभर दलितों व वंचितों के हक की बात करते हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उसे पूरा करते हैं.’’ परिवहन मंत्री सिंह ने कहा, ‘‘हम सपा गठबंधन से बाहर होने वाले दलों का स्वागत करने के लिए तैयार हैं. उनका स्वागत और अभिनन्दन है.’’

उन्होंने याद दिलाया कि भाजपा के साथ जिसने भी गठबंधन किया, वह मंत्री बना है. उन्होंने कहा, ‘‘अपना दल नेता अनुप्रिया पटेल केंद्र सरकार में व उनके पति आशीष पटेल योगी सरकार में मंत्री हैं, संजय निषाद भी मंत्री हैं. ओम प्रकाश राजभर भी भाजपा से गठबंधन के दौरान पिछली सरकार में मंत्री थे.’’

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in