यूपी में बिजली संकट: अखिलेश ने योगी सरकार को घेरा, तंज कसते हुए ये सब कहा

यूपी तक

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

देश समेत उत्तर प्रदेश में इन दिनों में बिजली का संकट मंडरा रहा है. शहरी और ग्रामीण इलाकों में जमकर हो रही बिजली कटौती से हाहाकार मचा हुआ है. एक तरफ सूबे के ऊर्जा मंत्री लोगों को बिजली बचाने की हिदायत दे रहे हैं, तो दूसरी तरफ विपक्ष इस मुद्दे को लेकर सरकार को सवालों के घेरे में खड़ा कर रहा है. ताजा कड़ी में समाजवादी पार्टी (एसपी) के मुखिया अखिलेश यादव ने ट्वीट कर प्रदेश सरकार पर हमला बोला है.

एसपी चीफ ने एक तस्वीर ट्वीट की है, जिसमें दावा किया गया है,

“यूपी की कुछ विद्युत उत्पादन इकाइयां तकनीकी कारणों से कई सप्ताह से बंद हैं. इनमें हरदुआगंज-660 MW, बारा-660 MW हैं. हरदुआगंज-605 MW मौसमी आंधी से क्षतिग्रस्त रही. इन्हें ठीक कर आपूर्ति के प्रयास युद्ध स्तर कर जारी हैं.”

अखिलेश यादव

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

ऐसा प्रतीत होता है कि एसपी चीफ अखिलेश यादव द्वारा पोस्ट की गई तस्वीर सरकार की ओर से जारी की गई है, जिस पर उन्होंने तंज कसते हुए कहा है, “सरकार समस्या का कारण बताने के लिए नहीं, निवारण के लिए होती है.”

ऊर्जा मंत्री बोले- ‘जनता बचत करे’

शुक्रवार को ऊर्जा मंत्री एके शर्मा ने ट्वीट कर कहा था, “गर्मी के कारण बिजली की मांग बढ़ी है. वहीं कई बिजली उपक्रम तकनीकी कारणों से हफ्तों से बंद हैं. ऐसे में बिजली की बचत का सभी प्रयास करें. हमारे विद्युत कर्मी निर्बाध आपूर्ति के लिए रात-दिन अपने कार्य में लगे हैं. सहयोग प्रार्थनीय है.”

बीजेपी विधायक बोले थे- ‘जनता में सरकार के प्रति रोष’

ADVERTISEMENT

इससे पहले पीलीभीत की पूरनपुर विधानसभा सीट से बीजेपी विधायक बाबूराम पासवान ने अपनी क्षेत्र की बिजली समस्या को लेकर ऊर्जा मंत्री एके शर्मा को पत्र लिखा था. उन्होंने कहा, “मा. मंत्री जी मेरी विधानसभा पूरनपुर में बीते कुछ दिनों में विद्युत व्यवस्था अत्यंत खराब हो गई है, जिस कारण जनता में सरकार के प्रति रोष उत्पन्न हो रहा है. सोशल मीडिया, समाचार पत्र में सरकार के विरोधी लेख निकल रहे है.”

BSP चीफ पर अखिलेश ने ली चुटकी, बोले- मैं भी चाहता था कि मायावती प्रधानमंत्री बनें, अगर…

ADVERTISEMENT

follow whatsapp

ADVERTISEMENT