SP विधायक ने UP विधानसभा में नमाज के लिए मांगा कमरा, ओवैसी की प्रतिक्रिया भी आई

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

झारखंड विधानसभा में नमाज पढ़ने के लिए एक कमरा आवंटित किए जाने के मुद्दे पर हंगामा होने के बाद उत्तर प्रदेश में भी इस मामले पर सियासत शुरू हो गई है.

दरअसल, समाजवादी पार्टी (एसपी) विधायक इरफान सोलंकी ने भी उत्तर प्रदेश विधानसभा में नमाज पढ़ने के लिए एक कमरा आवंटित करने की मांग की है.

सोलंकी का कहना है, ”जब हमारी विधानसभा की कार्यवाही चलती है, तो हम लोग जो मुसलमान विधायक हैं, वो अक्सर कार्यवाही छोड़कर मस्जिद जाते हैं, नमाज पढ़ने के लिए. अगर विधानसभा में ही एक प्रेयर रूम हो, छोटा सा ही सही तो उससे कार्यवाही नहीं छूटेगी.”

एसपी विधायक ने कहा है कि विधानसभा अध्यक्ष चाहें तो इस पर विचार कर सकते हैं, एक कमरा बना देने से किसी को कोई तकलीफ या नुकसान नहीं होगा.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

जब सोलंकी की इस मांग पर एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी से सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा, ”पहले उनसे ये पूछ लीजिए कि (एसपी अध्यक्ष) अखिलेश यादव की राय क्या है. अखिलेश यादव क्यों नहीं बोलते ये बात?”

जब ओवैसी से पूछा गया कि वह क्या चाहते हैं तो उन्होंने कहा, ”हम ये चाहते हैं कि उत्तर प्रदेश में, जैसा कि हर समाज हर बिरादरी की एक पॉलिटिकल लीडरशिप है, एक पहचान है, उसी तरह मुस्लिमों की एक इंडिपेंडेंट पॉलिटिकल वॉइस हो, जिसकी इजाजत भारत का संविधान देता है.”

ADVERTISEMENT

इसके आगे ओवैसी ने कहा, ”जब मुजफ्फरनगर का कांड हुआ, भारत की आजादी के बाद 50 हजार से ज्यादा लोग बेघर हो गए, उस वक्त ये लोग गूंगे बने हुए थे, उस वक्त उनको वो मस्जिद याद नहीं आई जो आज मुजफ्फनगर में वीरान हो चुकी है.”

विधानसभा में नमाज के लिए अलग कमरे के आवंटन के मुद्दे पर राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष जयंत चौधरी ने कहा है, ”मुझे लगता है कि राज्य की विधानसभा के अंदर एक विशेष धर्म से संबंधित धार्मिक गतिविधि के लिए एक कमरा आवंटित करना सही नहीं है.”

चौधरी ने कहा है कि अगर जरूरी हो, तो एक बहुधर्म प्रार्थना कक्ष संवैधानिक दायरे और संवेदनशीलता के अनुरूप हो सकता है.

ADVERTISEMENT

बता दें कि झारखंड विधानसभा में बीजेपी सदस्यों ने नमाज पढ़ने के लिए एक कमरा आवंटित करने के मुद्दे पर सोमवार को भारी हंगामा किया जिसके चलते सदन की बैठक बाधित हुई. वहां, बीजेपी नेता विधानसभा परिसर में हनुमान मंदिर और दूसरे धर्मावलंबियों के लिए उपासना स्थलों की मांग भी कर रहे हैं.

बाहुबली अतीक अब AIMIM में, अयोध्या में क्यों बोले ओवैसी कि चलिए कराते हैं DNA टेस्ट?

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT