शिवपाल ने की समान नागरिक संहिता लागू करने की मांग, बोले- 'अंबेडकर ने की थी इसकी वकालत'

शिवपाल ने की समान नागरिक संहिता लागू करने की मांग, बोले- 'अंबेडकर ने की थी इसकी वकालत'

शिवपाल सिंह यादव.

फाइल फोटो: चंद्रदीप कुमार/ इंडिया टुडे

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के नतीजे सामने आने के बाद से ही प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के मुखिया शिवपाल सिंह यादव लगातार सुर्खियों में बने हुए हैं. शिवपाल यादव किस कदर बीजेपी के नजदीक आ रहे हैं, इसके लिए अब और किसी उदाहरण की जरूरत नहीं है. दरअसल, लखनऊ में गुरुवार को अंबेडकर जयंती के मौके पर एक कार्यक्रम के दौरान शिवपाल यादव ने देश में समान नागरिक संहिता लागू किए जाने की मांग की.

मिली जानकारी के अनुसार, शिवपाल यादव गुरुवार को लखनऊ में एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे, जिसका विषय था 'राष्ट्रीयता और समाजवाद'.

इस मौके पर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के मुखिया ने कहा,

"बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर और राम मनोहर लोहिया दोनों ने समाजवाद की खुली पैरवी की थी और संविधान सभा में समान नागरिक संहिता की वकालत भी की थी. राम मनोहर लोहिया ने तो 1967 के चुनाव में इसे मुद्दा भी बनाया था."

शिवपाल यादव

उधर शिवपाल यादव के इस मुद्दे को उठाने के बाद प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता दीपक मिश्रा ने कहा है कि जल्द ही समान नागरिक संहिता को लागू करने की मांग को लेकर शिवपाल यादव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलेंगे. उन्होंने आगे कहा कि इसी मुद्दे को लेकर शिवपाल यादव लालकृष्ण आडवाणी और शांता कुमार सिंह से भी मुलाकात कर सकते हैं.

राजनीतिक गलियारों में इस बात के कयास लगाए जा रहे हैं कि शिवपाल यादव आने वाले दिनों में बीजेपी में शामिल हो सकते हैं या अपनी पार्टी की तरफ से बीजेपी को समर्थन दे सकते हैं. ऐसा कहा जा रहा है समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव और उनके चाचा शिवपाल यादव के बीच फिर 'दरार' पैदा हो गई है. इसी के कारण शिवपाल की अब बीजेपी से नजदीकियां बढ़ रही हैं.

<div class="paragraphs"><p> शिवपाल सिंह यादव.</p></div>
शिवपाल यादव 'राम भक्त' तो हो गए पर BJP में उनके लिए कुछ ऑप्शन है भी या नहीं? यहां समझिए

संबंधित खबरें

No stories found.