पुलिस पर युवती की हत्या का आरोप: 9 मई को चंदौली आएंगे अखिलेश, परिजनों से करेंगे मुलाकात

पुलिस पर युवती की हत्या का आरोप: 9 मई को चंदौली आएंगे अखिलेश, परिजनों से करेंगे मुलाकात
एसपी चीफ अखिलेश यादव.फोटो: इंडिया टुडे आर्काइव

चंदौली में एक मई को सैयदराजा पुलिस पर काफी संगीन आरोप लगे. दरअसल, पुलिस पर एक जिलाबदर के घर दबिश के दौरान घर में मौजूद दो युवतियों के साथ मारपीट का आरोप है. साथ ही मामले में जिलाबदर की बेटी निशा यादव की मौत का गंभीर आरोप भी सैयदराजा पुलिस पर लगा था. इस घटना को लेकर सूबे में सियासत भी तेज हो गई है. समाजवादी पार्टी (एसपी) के अध्यक्ष अखिलेश यादव आगामी 9 मई को पीड़ित परिवार से मिलने चंदौली आ रहे हैं. अखिलेश यादव के निजी सचिव ने उनके चंदौली दौरे का प्रोटोकॉल जारी किया है. एसपी सुप्रीमो 9 तारीख को दोपहर बाद 3:00 बजे चंदौली के सैयदराजा कोतवाली क्षेत्र के मनराजपुर गांव पहुंचेंगे.

गौरतलब है कि पिछली 1 मई को शाम साढे चार बजे के आसपास सूचना के आधार पर सैयदराजा थाने की पुलिस मनराजपुर गांव में न्यायालय द्वारा जिलाबदर घोषित किए गए कन्हैया यादव नाम के एक हिस्ट्रीशीटर के घर पर दबिश देने गई थी. बकौल पुलिस, जानकारी मिली थी कि जिला बदर होने के बावजूद कन्हैया यादव अपने घर पर मौजूद है, लेकिन दबिश के दौरान कन्हैया यादव पुलिस के हाथ नहीं लगा.

तकरीबन 2 घंटे बाद पुलिस को जानकारी मिली कि कन्हैया यादव की बड़ी बेटी निशा यादव की मौत हो गई है और छोटी बेटी गुंजा यादव घायल है. आरोप लगा कि सैयदराजा थाने की पुलिस ने दबिश के दौरान घर के सदस्यों के साथ मारपीट की है, जिसकी वजह से निशा की मौत हो गई.

परिजनों द्वारा लगाए गए आरोप के बाद पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए संबंधित थाने के एसएचओ को सस्पेंड कर दिया, साथ ही साथ एसएचओ सहित आधा दर्जन पुलिसकर्मियों पर गैर इरादतन हत्या का मामला भी दर्ज कर लिया गया. इस घटना के बाद कन्हैया यादव और उसका परिवार पुलिसकर्मियों की गिरफ्तारी की मांग पर अड़ा हुआ है.

यहां तक कि कन्हैया यादव ने गिरफ्तारी की मांग को लेकर भूख हड़ताल शुरू कर दी है. उधर कन्हैया यादव और उसकी बेटी गुंजा यादव की तबीयत खराब होने के बाद दोनों को जिला अस्पताल में एडमिट कराया गया है.

एक तरफ जहां कन्हैया यादव और उसका परिवार आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग पर अड़ा हुआ है, वहीं इस पूरे मामले पर उत्तर प्रदेश की सियासत भी बदस्तूर जारी है. अखिलेश यादव ने योगी सरकार को कटघरे में खड़ा करते हुए उत्तर प्रदेश पुलिस पर संगीन आरोप लगाए थे. अखिलेश यादव ने बयान देते हुए यहां तक कहा था कि 'कन्हैया यादव को जाति के आधार पर पुलिस द्वारा उत्पीड़न किया जा रहा है.'

बहरहाल इस पूरे मामले पर एक तरफ जहां सियासत गर्म है, वहीं दूसरी तरफ अभी तक यह साफ नहीं हो पाया है कि आखिर निशा यादव की मौत हुई तो कैसे हुई?

एसपी चीफ अखिलेश यादव.
चंदौली में युवती की मौत मामले में राजनीति तेज, केशव मौर्य बोले- 'अखिलेश यादव बौखला गए हैं'

संबंधित खबरें

No stories found.