मायावती ने की 'अग्निपथ' पर पुनर्विचार की मांग- बोलीं- 'स्कीम ने युवाओं को निराश किया'

मायावती ने की 'अग्निपथ' पर पुनर्विचार की मांग- बोलीं- 'स्कीम ने युवाओं को निराश किया'
फाइल फोटो: एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मायावती.तस्वीर: मनीष अग्निहोत्री, इंडिया टुडे

युवाओं को चार साल के लिए सेना में संविदा पर भर्ती करने और अधिकतर को बिना पेंशन व ग्रेजुएटी को अनिवार्य सेवानिवृत्ति देने की केंद्र द्वारा शुरू की गई ‘अग्निपथ योजना’ पर फिर एक बार बीएसपी चीफ मायावती ने अपनी प्रतिक्रिया दी है.

रविवार को ट्वीट कर मायावती ने कहा कि युवाओं को के केंद्र की अल्पावधि ’अग्निपथ’ सैन्य भर्ती स्कीम ने काफी निराश व हताश किया है.

बीएसपी सुप्रीमो ने अपने ट्वीट में कहा,

"ऐसे समय में जब मुट्ठीभर लोगों को छोड़कर देश की विशाल आबादी में से खासकर युवा वर्ग गरीबी, महंगाई, बेरोजगारी, तनाव आदि के अग्निपथ पर हर दिन बिना थके-हारे जीवन संघर्ष को मजबूर हैं, उन्हें केन्द्र की अल्पावधि ’अग्निपथ’ सैन्य भर्ती स्कीम ने काफी निराश व हताश किया है."

मायावती

मायावती ने कहा, "केन्द्र द्वारा रेलवे, सेना व अर्द्धसैनिक बल आदि में भर्ती की संख्या व संभावना को अति-सीमित करने का ही परिणाम है कि खासकर ग्रामीण परिवेश के हिम्मतवर नौजवान काफी असहाय व ठगा हुआ महसूस कर रहे हैं तथा भविष्य को अंधकार में पाकर उनका आक्रोश उबाल पर है, जिसे सही से संभालना जरूरी."
फोटो: मायावती/ ट्विटर

बीएसपी चीफ ने आगे कहा, "केन्द्र से पुनः अनुरोध है कि देश के भविष्य इन पीड़ित नौजवानों के दर्द व इनके भविष्य के मुद्दे को गंभीरता से लेकर अपने फैसले पर पुनर्विचार करे तथा देश की सुरक्षा से सम्बंधित ऐसे अहम मामलों में संसद को विश्वास में जरूर ले. नौजवानों से भी अपील है कि वे संयम जरूर बरतें."

आपको बता दें कि अग्निपथ योजना के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन के बीच गुरुवार को सरकार ने वर्ष 2022 के लिए इस प्रक्रिया के तहत भर्ती की उम्र पूर्व में घोषित 21 साल से बढ़ाकर 23 साल कर दी थी.

क्या है ‘अग्निपथ’ योजना?

सरकार ने दशकों पुरानी रक्षा भर्ती प्रक्रिया में आमूलचूल परिवर्तन करते हुए थलसेना, नौसेना और वायुसेना में सैनिकों की भर्ती संबंधी ‘अग्निपथ’ योजना की मंगलवार को घोषणा की थी, जिसके तहत सैनिकों की भर्ती चार साल की लघु अवधि के लिए संविदा आधार पर की जाएगी.

योजना के तहत तीनों सेनाओं में इस साल करीब 46,000 सैनिक भर्ती किए जाएंगे. वर्ष 2022 के चयन के लिए पात्रता आयु साढ़े 17 वर्ष से 23 वर्ष के बीच होगी और इन्हें ‘अग्निवीर’ नाम दिया जाएगा.

फाइल फोटो: एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मायावती.
सहारनपुर: 'अग्निपथ' के विरोध में उम्मीदवारों को भड़का रहे थे सियासी दल के लोग? 5 अरेस्ट

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in