जहांगीरपुरी मामला: अखिलेश यादव की 5 सदस्यीय टीम दिल्ली जाकर करेगी जांच, सौंपेगी रिपोर्ट

जहांगीरपुरी मामला: अखिलेश यादव की 5 सदस्यीय टीम दिल्ली जाकर करेगी जांच, सौंपेगी रिपोर्ट
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव.फोटो: मनीष अग्निहोत्री/ इंडिया टुडे

दिल्ली के जहांगीरपुरी में अतिक्रमण रोधी अभियान का मामला यूपी की राजनीति में भी चर्चा का विषय बना हुआ है. इस मामले को लेकर बीजेपी सरकर की तीखी आलोचना करने के बाद अब अखिलेश यादव ने नया स्टेप लिया है. अखिलेश यादव के निर्देश पर समाजवादी पार्टी के 5 सदस्यों की एक टीम गठित हुई है. यह टीम जहांगीरपुरी जाएगी और पूरी घटना की जांच कर रिपोर्ट बना 22 अप्रैल को सौंपेगी.

समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल की इस संबंध में लिखी गई चिट्ठी में बताया गया है कि जांच कमेटी में सांसद शफीकुर्रहमान बर्क, पूर्व सांसद रवि प्रकाश वर्मा, सांसद एसटी हसन, राज्यसभा सांसद विशंभरव प्रसाद निषाद और पूर्व सांसद जावेद अली खान शामिल हैं.

इस चिट्ठी में लिखा गया है कि, 'नई दिल्ली की जहांगीरपुरी बस्ती में दिनांक 20 अप्रैल 2022 को भाजपा शासित (संचालित) दिल्ली नगर निगम द्वारा बुल्डोजर चलाकर बस्ती को उजाड़ दिया गया है. उसकी जांच हेतु 5 सदस्यीय कमेटी गठित की गई है, जो दिनांक 22 अप्रैल 2022 को जांचकर अपनी रिपोर्ट समाजवादी पार्टी के केंद्रीय कार्यालय नई दिल्ली/ प्रदेश कार्यालय लखनऊ को प्रस्तुत करेंगे.'

आपको बता दें कि इससे पहले जहांगीरपुरी मामले में अखिलेश यादव ने आरोप लगाया था कि सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) दिल्ली नगर निगम चुनाव जीतने के लिए माहौल बना रही है.

अखिलेश ने सिलसिलेवार ट्वीट में कहा था, ‘बुल्डोजर को लेकर देशभर में आक्रोश पैदा हो रहा है. भाजपाई गैरकानूनी तरीके से अपने विरोधियों के निर्माण को अवैध घोषित कर बुल्डोजर चलवा रहे हैं.' उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, 'भाजपा ने बुल्डोजर को अपनी ग़ैरक़ानूनी ताक़त दिखाने का प्रतीक बना लिया है. मुसलमान व अन्य अल्पसंख्यक, पिछड़े व दलित इनके निशाने पर हैं. अब तो इनके उन्माद का शिकार हिंदू भी हो रहे हैं. भाजपा दरअसल संविधान पर ही ये बुल्डोजर चला रही है.' अखिलेश ने भाजपा को सलाह दी थी कि वह बुल्डोजर को ही अपना प्रतीक चिन्ह बना ले.

गौरतलब है कि दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में पिछले दिनों हनुमान जयंती के मौके पर शोभा यात्रा निकाले जाने के दौरान दो समुदायों के बीच हिंसा हुई थी. इसके बाद वहां भाजपा शासित उत्तर दिल्ली नगर निगम द्वारा अतिक्रमण रोधी अभियान के तहत कई निर्माणों को ढहाया गया है. उच्चतम न्यायालय ने इस अतिक्रमण रोधी अभियान पर रोक लगाने का आदेश दिया था.

(भाषा के इनपुट्स के साथ).

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव.
भाजपा ने बुल्डोजर को अपनी गैरकानूनी ताकत दिखाने का प्रतीक बनाया: अखिलेश

संबंधित खबरें

No stories found.