ज्ञानवापी का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा, मस्जिद कमेटी ने सर्वे पर रोक लगाने की मांग की

ज्ञानवापी का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा, मस्जिद कमेटी ने सर्वे पर रोक लगाने की मांग की
फोटो: फिरोज अली/ इंडिया टुडे

वाराणसी में श्रृंगार गौरी मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर चल रहे विवाद का मामला अब सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है. ज्ञानवापी मस्जिद मामले पर वाराणसी की निचली अदालत के फैसले पर रोक की मांग करते हुए शुक्रवार को CJI की अगुआई वाली पीठ के सामने मेंशन किया गया.

अंजुमन इंतजामियां मसाजिद कमेटी की ओर से हुजैफा अहमदी ने CJI के सामने मामला मेंशन करते हुए कहा कि आज निचली अदालत के फैसले पर कार्रवाई शुरू हो जाएगी. इसलिए मामले को आज ही सुना जाए.

अहम बिंदु

अंजुमन इंतजामियां मसाजिद कमेटी की तरफ से मांग की गई कि कम से कम मामले पर यथस्थिति बनाए रखने का आदेश जारी करे. इस पर चीफ जस्टिस (CJI) ने कहा कि 'अभी हमने पेपर नही देखा है. बिना पेपर देखे कोई आदेश जारी नही किया जा सकता.'

सुप्रीम कोर्ट ने फिलहाल यथास्थिति बरकरार रखने का आदेश जारी करने से इनकार कर दिया है. एडवोकेट हुजैफा अहमदी ने ज्ञानवापी मस्जिद में सर्वे के मामले में यथास्थिति बरकरार करने की मांग की थी. हालांकि सुप्रीम कोर्ट इस मामले पर जल्द सुनवाई के लिए तैयार हो गया है.

आपको बता दें कि गुरुवार को वाराणसी की निचली अदालत ने ज्ञानवापी मस्जिद मामले में अपना फैसला सुनाया था. अदालत ने कहा था कि कोर्ट कमिश्नर अजय मिश्रा रहेंगे और 17 मई से पहले दोबारा सर्वे होगा. अदालत ने सर्वे का समय सुबह 8 से 12 बजे तक तय किया है. सर्वे की रिपोर्ट 17 मई तक सौंपनी होगी. आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट में कमेटी की तरफ से सर्वे पर स्टे लगाने की मांग भी की गई है.

संबंधित खबरें

No stories found.