window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

बांग्लादेश की जूली अख्तर के लिए सीमापार चला गया था मुरादाबाद का अजय, लौटा तो ये कहानी बताई

जगत गौतम

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

Moradabad News: सीमा हैदर-सचिन, अंजू-नसरुल्‍ला का मामला फिलहाल चर्चाओं में बना हुआ है. सीमा पार आशिकी की इन घटनाओं पर हर किसी की नजर बनी हुई है. इसी दौरान उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद से भी एक ऐसी ही कहानी सामने आई थी. यहां बांग्लादेशी लड़की जूली अपने प्रेमी अजय से मिलने आई. उसने मुरादाबाद में अपना धर्म परिवर्तन करके अजय के साथ शादी की और फिर अजय को लेकर बांग्लादेश चली गई. युवती का नाम जूलिया अख्तर है. 

जब अजय के परिवार को पता चला कि उनका बेटा बांग्लादेश चला गया तो परिवार में हड़कंप मच गया. बताया जा रहा था कि इस दौरान परिवार को अजय का खून से लथपथ एक फोटो भी मिला था. इस मामले में अजय की मां ने एसएसपी से मुलाकात कर बेटे को वापस देश लाने की गुहार लगाई थी. पुलिस जांच में सामने आया था कि अजय अपनी मर्जी से युवती के साथ बांग्लादेश गया था.

अब वापस देश लौट आया अजय

बता दें कि बीते रविवार को अजय बांग्लादेश से अचानक मुरादाबाद वापस लौट आया. अजय ने पुलिस को बताया है कि उसका उसके परिवार के साथ मनमुटाव हो गया था. इसलिए वह नाराज होकर बांग्लादेश चला गया था. इस दौरान अजय ने साफ किया कि उसे वहां बंधक बना कर नहीं रखा गया था.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

अजय ने पुलिस पूछताछ में बताया है कि उसकी और जूली की मुलाकात फेसबुक पर साल 2017 में हुई थी. इस दौरान बांग्लादेश लड़की उसकी अच्छी दोस्त बन गई थी. इस दौरान दोनों ने एक दूसरे का मोबाइल नंबर भी ले लिया था और दोनों ने आपस में बात करनी शुरू कर दी थी.  

जूली अपनी बेटी को लेकर आई और कर ली शादी

मिली जानकारी के मुताबिक, अजय ने पुलिस पूछताछ में बताया है कि जूली साल 2020 में उससे मिलने मुरादाबाद आने वाली थी. मगर कोविड के दौरान वह यहां नहीं आ पाई. इसलिए जूली 2022 में अपनी बेटी हलीमा को लेकर मुरादाबाद आई और धर्म परिवर्तन कर उससे शादी कर ली. अजय ने बताया कि इसी दौरान वह भी उसके साथ बांग्लादेश चला गया.

ADVERTISEMENT

खून से सने फोटो के बारे में अजय ने पुलिस को बताया है कि बांग्लादेश में उसका पैर फिसल गया था, जिससे उसको काफी चोट आई थी. वह फोटो उसी घटना का है. अजय ने साफ कहा कि वह अपनी मर्जी से जूली के साथ बांग्लादेश गया था.

कैसे आया वापिस?

अजय ने पुलिस को बताया है कि जूली ने ही उसे सीमा पार करवाई और पश्चिम बंगाल में उसे छोड़ा. फिर वह वापस लौट गई. यूपीतक की टीम ने जब पुलिस अधिकारी से पूछा कि क्या अजय के पास पासपोस्ट था? इस पर पुलिस ने कहा कि इस बारे में जांच की जा रही है. 

ADVERTISEMENT

बता दें कि सीमा हैदर-सचिन और अब मंजू-नसरुल्‍ला का मामला लगातार सुर्खियों में बना हुआ है. इसी बीच मुरादाबाद से आए जूली और अजय का मामला भी खूब चर्चाओं में रहा है. अब जब अजय ने वापस मुरादाबाद आकर सारी जानकारी पुलिस को दे दी है.

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT