window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

'रेपिस्ट डीके मिश्रा को क्यों नहीं मारी गोली'... सोशल मीडिया पर वायरल है कौशांबी का ये केस

अखिलेश कुमार

ADVERTISEMENT

Kaushambi
Kaushambi
social share
google news

Kaushambi News : उत्तर प्रदेश के कौशांबी में छात्रा से दुष्कर्म के आरोपी प्रधानाचार्य डीके मिश्रा को रविवार को पुलिस और विशेष कार्य बल (SOG) की संयुक्त टीम ने गिरफ्तार कर लिया है. घटना का वीडियो वायरल करने वाले दूसरे आरोपी को पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया था.  बता दें कि कोखराज थाना क्षेत्र स्थित एक स्कूल के प्रधानाचार्य ने अपने ही विद्यालय की 15 वर्षीय छात्रा के साथ इस साल अप्रैल में दुष्कर्म किया था. वहीं आरोपी के गिरफ्तारी के बाद सोशल मीडिया पर कई तरह के सवाल भी उठने लगे हैं. 

आरोपी प्रिंसपल को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बता दें बीते दिनों कौशांबी जिले में एक नाबालिग छात्रा से अश्लीलता का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा था. वीडियो वायरल होते ही पुलिस ने छात्रा की मां के तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर जांच में जुट गई. आरोपी को पकड़ने के लिए एसपी ने पांच टीमें लगाई थी. वहीं रविवार को कोखराज पुलिस और SOG की संयुक्त टीम ने फरार चल रहे प्रिंसिपल को टेढ़ी मोड़ के पास गिरफ्तार किया. 

वीडियो हुआ था वायरल

पुलिस के मुताबिक ये पूरा मामला कोखराज थाना क्षेत्र के एक इलाके का है. जहां अप्रैल महीने को एक स्कूल के प्रिंसिपल देवेंद्र कुमार मिश्रा पर आरोप है कि उसने नाबालिग छात्रा के घर में पहुंच उसके साथ रेप की घटना को आजम दिया. इस घटना का वीडियो गांव के ही एक शख्स ने बना कर उसे 6 जून 2024 को सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया. वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया. इसके बाद छात्रा की मां ने कोखराज़ थाने में वीडियो वायरल करने वाले और प्रिंसपल के ख़िलाफ़ रेप की तहरीर दी. 

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

पीड़िता ने की थी आत्महत्या की कोशिश

पीड़ित किशोरी की मां की तहरीर पर पुलिस ने छह जून को आरोपी डी.के. मिश्रा के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 376 (बलात्कार), 323 (जानबूझकर चोट पहुंचाना), 504 (अपमान करना) और यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (पॉक्सो) और सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) अधिनियम की संबंधित धाराओं में मामला दर्ज किया था. वहीं वीडियो वयरल होने के बाद पीड़िता ने ट्रेन के सामने कूदकर आत्महत्या की भी कोशिश की और गंभीर रूप से घालय हो गई. फिलहाल पीड़िता का अस्पताल में इलाज जारी है. वहीं रेप छात्रा द्वारा आत्महत्या का प्रयास की सूचना पर शनिवार को एडीजी प्रयागराज भानु भास्कर आईजी प्रेम कुमार गौतम के साथ जिला अस्पताल पहुंचे और पूरे मामले में पीड़िता और उसके परिजनों से मिलकर जानकारी लिया. 

सोशल मीडिया पर उठ रहे सवाल

वहीं आरोपी प्रिंसिपल देवेंद्र कुमार मिश्रा के गिरफ्तारी के बाद सोशल मीडिया पर कई तरह के सवाल भी उठने लगे. कई सोशल मीडिया यूजर्स ने सवाल उठाया कि उत्तर प्रदेश पुलिस जब अपराधियों का पकड़ती है तो उनके पैरों में गोली लगी होती है. ये आजकल कई अपराधियों के गिरफ्तारी के दौरान देखा गया है. वहीं प्रिंसिपल देवेंद्र कुमार मिश्रा सही सलाम पकड़े गए, उन्हें कहीं खरोंच तक नहीं आई. 
 

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT