window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

रोज सुनते थे ओशो का प्रवचन और…, जालौन के दो दोस्तों ने उठाया ऐसा कदम, मच गया हड़कंप

अलीम सिद्दीकी

ADVERTISEMENT

Jaluan news
Jaluan news
social share
google news

उत्तरप्रदेश के जौलान से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां ओशो का प्रवचन सुनने के बाद दो दोस्त अमन और बालेंद्र ने वॉट्सऐप स्टेटस पर 'मृत्यु ही सत्य है' लिखने के बाद जहर खाकर आत्महत्या कर ली. जानकारी के मुताबिक, दोनों ही दोस्त ओशो से काफी प्रभावित थे. घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच-पड़ताल के बाद दोनों के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है.

जानें पूरा मामला 

यह पूरा मामला जालौन के कालपी कस्बे का है, जहां सुनसान मैदान में बैठे दो दोस्त अमन और बालेन्द्र ने मंगलवार देर रात विषाक्त पदार्थ खाकर जान दे दी. बताया जा रहा है कि दोनों दोस्त ओशो के प्रवचन को सुनते थे और उनसे काफी प्रभावित थे.आत्महत्या करने से पहले दोनों दोस्तों ने अपने मोबाइल पर तीन स्टेटस लगाए जिससे मालूम होता है कि शायद मरने से पहले वो ओशो के प्रवचन सुन रहे थे.

फोन पर लगाया था ये स्टेटस

बता दें कि जहर खाने से कुछ देर पहले ही बालेंद्र ने फोन में स्टेटस लगाया था, जिसमें जलती चिता, शवयात्रा और ओशो की फ़ोटो थी. जानकारी के मुताबिक,  बालेंद्र की मौके पर ही मौत हो गई. जबकि अमन की हालत बिगड़ने लगी तब उसने अपने परिजनों को फोन करके इसकी सूचना दे दी. आनन-फानन में  पहुंचे परिजन दोनों को तत्काल इलाज के लिए कालपी के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुंचे. मगर इलाज होने से पहले  ही अमन की मौत हो गई. इस घटना की जानकारी से इलाके में हड़कंप मच गया और  घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची, जिन्होंने मृतकों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT


दोनों में गहरी दोस्ती थी 

मिली जानकारी के मुताबिक, अमन वर्मा और बालेन्द्र पाल अच्छे दोस्त थे. अमन मेडिकल स्टोर का संचालन करता था और शादी शुदा था, जबकि बालेंद्र की शादी नहीं हुई थी. घटना की जानकारी मिलते ही दोनों के परिजन भी अस्पताल पहुंच गए. वहीं इस घटना के बाद परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल था.

पुलिस ने क्या क्या बताया

इस पूरे मामले  पर एसपी असीम चौधरी ने बताया कि 'कालपी कोतवाली क्षेत्र से एक मामला सामने आया है,  जिसमें दो दोस्तों ने जहर खाके आत्महत्या  कर ली है. संज्ञान में आते ही पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों  शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी.'

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT