‘अग्निपथ’ योजना को लेकर बलिया में बवाल, युवाओं ने की तोड़फोड़, तो पुलिस ने किया लाठीचार्ज

‘अग्निपथ’ योजना को लेकर बलिया में बवाल, युवाओं ने की तोड़फोड़, तो पुलिस ने किया लाठीचार्ज
फोटो: उदय गुप्ता

उत्तर प्रदेश में सेना में भर्ती के अकांक्षी युवा कई जिलों में केंद्र द्वारा शुरू की गई अग्निपथ योजना का खुलकर विरोध कर रहे हैं. गुरुवार को कई जिलों में हुए प्रदर्शन के बाद शुक्रवार को भी इसी तरह की खबर सामने आई. आपको बता दें कि शुक्रवार सुबह पूर्वी यूपी के बलिया जिले में युवाओं ने रेलवे स्टेशन पर जमकर तोड़फोड़ की.

फोटो: उदय गुप्ता
मिली जानकारी के अनुसार, बलिया रेलवे स्टेशन पर प्रदर्शनरत युवाओं की तादाद ज्यादा थी और उन्होंने बवाल भी जमकर काटा, जिसके बाद पुलिस ने हालात पर काबू पाने के लिए लाठीचार्ज किया.
अहम बिंदु

आपको बता दें कि गुरुवार को उत्तर प्रदेश के आगरा में प्रदर्शनकारियों ने एक सरकारी बस पर पथराव किया. गोरखपुर, अलीगढ़ और मथुरा में नौजवानों ने योजना के खिलाफ रास्ता जाम किया. वहीं, फिरोजाबाद और बुलंदशहर में युवकों ने सड़क पर उतरकर नारेबाजी की.

फोटो: उदय गुप्ता

सीएम योगी बोले- 'बहकावे में न आएं'

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को सेना भर्ती की अग्निपथ योजना को लेकर प्रदर्शन कर रहे युवाओं से एक अपील की. उन्होंने युवाओं को भरोसा दिलाते हुए कहा, "युवा साथियों, 'अग्निपथ योजना' आपके जीवन को नए आयाम प्रदान करने के साथ ही भविष्य को स्वर्णिम आधार देगी. आप किसी बहकावे में न आएं. मां भारती की सेवा हेतु संकल्पित हमारे 'अग्निवीर' राष्ट्र की अमूल्य निधि होंगे और यूपी सरकार अग्निवीरों को पुलिस व अन्य सेवाओं में वरीयता देगी. जय हिंद."

अखिलेश ने किया 'अग्निपथ' का विरोध

एसपी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सैन्य बलों में भर्ती की नई योजना 'अग्निपथ’ को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि यह देश और देश के युवाओं के भविष्य के लिए घातक साबित होगी.

उन्होंने कहा, ‘‘देश की सुरक्षा कोई अल्पकालिक या अनौपचारिक विषय नहीं है, ये अति गंभीर व दीर्घकालिक नीति की अपेक्षा करती है. सैन्य भर्ती को लेकर जो ख़ानापूर्ति करने वाला लापरवाही भरा रवैया अपनाया जा रहा है, वह देश और देश के युवाओं के भविष्य की रक्षा के लिए घातक साबित होगा. ‘अग्निपथ’ से पथ पर अग्नि न हो."

क्या है ‘अग्निपथ’ योजना?

अहम बिंदु

सरकार ने दशकों पुरानी रक्षा भर्ती प्रक्रिया में आमूलचूल परिवर्तन करते हुए थलसेना, नौसेना और वायुसेना में सैनिकों की भर्ती संबंधी ‘अग्निपथ’ योजना की मंगलवार को घोषणा की थी, जिसके तहत सैनिकों की भर्ती चार साल की लघु अवधि के लिए संविदा आधार पर की जाएगी.

योजना के तहत तीनों सेनाओं में इस साल करीब 46,000 सैनिक भर्ती किए जाएंगे. वर्ष 2022 के चयन के लिए पात्रता आयु साढ़े 17 वर्ष से 23 वर्ष के बीच होगी और इन्हें ‘अग्निवीर’ नाम दिया जाएगा.

‘अग्निपथ’ योजना को लेकर बलिया में बवाल, युवाओं ने की तोड़फोड़, तो पुलिस ने किया लाठीचार्ज
टिकैत ने किया अग्निपथ योजना का विरोध, बोले- BKU इसके खिलाफ आंदोलन करेगी

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in