महोबा: जीजा पत्नी को लेने आया ससुराल, साले से हुई कहासुनी, साले ने दे दिया ट्रेन से धक्का

महोबा: जीजा पत्नी को लेने आया ससुराल, साले से हुई कहासुनी, साले ने दे दिया ट्रेन से धक्का
फोटो: नाहिद अंसारी

Mahoba News: उत्तर प्रदेश के महोबा जिले में रिश्तों की मर्यादाओं को तार-तार करने वाला एक मामला सामने आया है. आरोप है कि सगे साले ने अपने ही जीजा को ट्रेन से धक्का दे दिया और उसे नीचे फेंक दिया. इस हादसे में जीजा के दोनों हाथ कट गए हैं और वह गंभीर तौर से घायल हो गया. गंभीर हालत देखते हुए उसे झांसी मेडिकल कॉलेज के लिए रेंफर कर दिया. आरोपी साला मौके से फरार है. पुलिस आरोपी की तलाश में जुटी हुई है.

विस्तार से जानिए पूरा मामला

रिश्तों की मर्यादाओं को तार-तार करते हुए ये हैरान करने वाला मामला महोबा शहर कोतवाली क्षेत्र के बरीपुरा गांव से सामने आया है. मिली जानकारी के मुताबिक, मऊरानीपुर के गांव टेहरका का रहने वाला भैयालाल अपनी पत्नी को लेने के लिए अपनी ससुराल आया था. मगर यहां उसका स्वागत होने की बजाए उसके साले ने ही अपने जीजा पर चोरी का आरोप लगा दिया.

मिली जानकारी के मुताबिक, साले ने जीजा को गिरफ्तार करवाने के लिए पुलिस को भी मौके पर बुला लिया.  मौके पर पहुंची पुलिस ने उसे कई घंटे थाने में बैठाए रखा और बाद में आपसी राजीनामे पर उसे छोड़ दिया गया. मगर फिर भी जीजा-साले के बीच पैदा हुआ विवाद खत्म नहीं हुआ.

साले ने दी जीजा को धमकी

मिली जानकारी के मुताबिक, आरोपी साले ने अपनी जीजा के साथ अपनी बहन को भेजने से मना कर दिया और फिर से ससुराल आने पर उसे जान से मारने की भी धमकी दे डाली. आरोप है कि इस दौरान साला खुद अपने जीजा को अपने साथ उनके घर छोड़ने की बात कहकर ट्रेन में बैठ गया.

और दे दिया धक्का

आरोप है कि इंटरसिटी एक्सप्रेस ट्रेन में जाते समय साले और जीजा के बीच फिर कहासुनी होने लगी. इसी दौरान साले ने कुलपहाड़ के पास ट्रेन से जीजा को कथित तौर पर धक्का दे दिया. रेलवे ट्रेक में गिरते ही जीजा के दोनों हाथ कटकर अलग हो गए. रेलवे ट्रेक में युवक के गिरने की सूचना मिलते ही आरपीएफ पुलिस मौके पर पहुंची और खून से लथपथ युवक को जिला अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसकी हालत नाजुक देखते हुए उसे झांसी मेडिकल के लिए रेफर कर दिया. अभी भी घायल जीजा भैयालाल की हालत नाजुक बनी हुई है. आरोपी साले के खिलाफ केस दर्ज हो गया है.

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in