कूड़ा बीनने वाले 3 लोगों की शराब पीने से मौत, जगह को लेकर नोएडा व अलीगढ़ प्रशासन आमने-सामने

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में जहरीली शराब पीने का मामला अभी शांत नहीं हुआ है और इसी बीच ग्रेटर नोएडा के जेवर कस्बा निवासी 3 लोगों की शराब पीने से मौत हो गई है. नोएडा पुलिस ने बताया कि ये तीनों लोग कूड़ा बीनने का काम करते थे और अलीगढ़ के टप्पल क्षेत्र में कूड़ा बीनते हुए इन्हें शराब के पव्वे मिले थे. वहीं, मामले में अलीगढ़ प्रशासन ने कहा है कि उक्त शराब अलीगढ़ की नहीं थी.

मामले में नोएडा पुलिस का क्या है पक्ष?

ग्रेटर नोएडा के डीसीपी अभिषेक ने बताया कि 17 अगस्त (बुधवार) की शाम को जेवर के प्राथमिक स्वस्थ केंद्र से सूचना मिली थी कि जेवर निवासी विजय, जिग्गू और विज्जु की शराब पीने से तबियत खराब हो गई है.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

उन्होंने बताया कि विजय की 17 अगस्त को ही मौत हो गई थी. इसके बाद बचे 2 व्यक्तियों को बेहतर इलाज के लिए सफदरजंग अस्पताल भेजा गया जहां उपचार के दौरान 18 अगस्त (गुरुवार) को उनकी भी मौत हो गई.

ADVERTISEMENT

डीसीपी ने मृतकों के परिजन के हवाले से बताया कि ये तीनों 16 अगस्त (मंगलवार) को अलीगढ़ के टप्पल क्षेत्र में गए थे. वहां पर कूड़ा बीनने के दौरान कुराना बंबे के पास इन्हें शराब के पव्वे मिले जिसका इन्होंने सेवन किया था.

डीसीपी के मुताबिक, मंगलवार को ही तीनों की तबियत खराब हो गई थी, जिसके बाद इन्हें प्राथमिक स्वस्थ केंद्र में भर्ती कराया गया था. बकौल डीसीपी, इस संबंध में अलीगढ़ पुलिस को सूचना दे दी गई है और इस मामले में अग्रिम विधिक कार्रवाई की जा रही है.

ADVERTISEMENT

अलीगढ़ प्रशासन ने नोएडा पुलिस के दावे को किया खारिज

अलीगढ़ के जिला आबकारी अधिकारी डॉ. सतीश चंद्र ने बताया, “मौके पर मिले खाली पव्वे के क्यूआर कोड से जांच करने पर पता चला कि वह नोएडा के भट्ठा पारसोल के एक ठेके की आवंटित शराब थी. अलीगढ़ में शीशी की शराब पर 2 महीनों से प्रतिबंध है, यह शराब नोएडा की है.”

अलीगढ़ में जहरीली शराब पीने से हुई थी कई दर्जन लोगों की मौत

गौरतलब है कि पिछले दिनों जहरीली शराब पीने से अलीगढ़ में 70 से अधिक लोगों की मौत हो गई थी. वहीं, कई लोग गंभीर रूप से बीमार हो गए थे, जिनकी आंखों में भी नुकसान पहुंचा था. शराब कांड में अब तक 86 आरोपी पकड़े जा चुके हैं. इस मामले में पुलिस ने पुलिस ने शराब माफिया अनिल चौधरी की करीब 5.30 करोड़ रुपए की चल-अचल संपत्तियों को जब्त कर लिया है. 

सीएम योगी ने दिए थे एनएसए लगाने के आदेश

सीएम योगी ने पूरे प्रकरण में आरोपियों के खिलाफ एनएसए लगाने के निर्देश दिए थे. साथ में सीएम योगी ने दोषियों की संपत्ति कुर्क करने के भी निर्देश दिए थे. मामले में प्रशासन ने आबकारी विभाग के अधिकारियों को भी सस्पेंड किया था.

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT