window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

अयोध्या से लौट रही महिला सिपाही के साथ ट्रेन में क्या हुआ था? होश में आने के बाद खुद बताई सारी बात

संतोष शर्मा

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

Lucknow News: अयोध्या में सरयू एक्सप्रेस ट्रेन में महिला सिपाही पर जानलेवा हमले के मामले में नई जानकारी सामने आई है. बता दें कि घायल महिला सिपाही को होश आ गया है. लखनऊ ट्रामा सेंटर में भर्ती महिला कांस्टेबल ने होश में आने के बाद अफसर को कहा कि दो लोगों ने उसपर जानलेवा हमला किया था. सिर में चोट लगने की वजह से फिलहाल महिला कांस्टेबल पूरी घटना नहीं बता पा रही है.

महिला सिपाही को आया होश

बता दें कि लखनऊ ट्रामा सेंटर में भर्ती महिला कांस्टेबल ने होश में आने के बाद अफसर को कहा कि, ‘मनकापुर स्टेशन से ट्रेन चलने के 10, 15 मिनट बाद चलती ट्रेन में हुई घटना हुई थी. दो लोगों ने उसपर जानलेवा हमला किया था.’ वहीं जांच में लगी यूपीएससीएफ की तीन टीमें मोबाइल टावर डाटा से संदिग्ध नंबरों की छानबीन कर रही है. रेलवे ट्रैक के किनारे घटना के वक्त सक्रिय नंबरों को खंगाला जा रहा है.

घटना के 17 दिन बाद भी आरोपियों की तलाश

वहीं घटना के 17 दिन बाद भी पुलिस नहीं पता लगा पाई कि महिला कांस्टेबल के ऊपर जानलेवा हमला क्यों और किसने किया. 29 अगस्त को सरयू एक्सप्रेस में सफर कर रही महिला कांस्टेबल पर अज्ञात हमलावरों ने जानलेवा हमला किया था. खून से लथपथ महिला कांस्टेबल ने सीट के नीचे छिपकर बचाई थी जान. फिलहाल लखनऊ केजीएमसी ट्रामा सेंटर में अभी भी महिला कांस्टेबल का इलाज चल रहा है.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

बता दें कि 43 वर्ष महिला कॉन्स्टेबल सुमित्रा पटेल 1998 बैच की सिपाही हैं. स्पोर्ट्स कोटे से भर्ती हुई सुमित्रा पटेल प्रयागराज के भदरी सोरांव इलाके की रहने वाली हैं, जहां वह अपने दो भाइयों के साथ रहती हैं.

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT