window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

CM योगी ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का किया दौरा, मंत्रियों और अधिकारियों को दिया ये टास्क

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

उत्तर प्रदेश में भारी बारिश के सूबे के कई जिले बाढ़ से प्रभावित हैं. वहीं बुधवार को बाढ़ पीड़ितों का जायजा लेने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बलरामपुर, श्रावस्ती और बहराइच पहुंचे. इस दौरान उन्होंने लोगों के बीच राहत सामग्री बांटी. सीएम योगी ने इन जनपदों में हवाई सर्वेक्षण कर हालात का जायजा लिया और उन्हें आश्वस्त किया कि संकट की हर घड़ी में सरकार उनके साथ खड़ी है.

पिछले कुछ दिनों से पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ जिले राप्ती, रोहिन, घाघरा नदियों का जलस्तर बढ़ जाने से प्रभावित हैं. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की इस स्थिति पर लगातार नजर बनी हुई है. बाढ़ प्रभावितों की सहायता व उन तक राहत सामग्री उपलब्ध कराने के लिए न केवल निर्देश दिए गए हैं बल्कि सीएम प्रतिदिन इसकी समीक्षा भी कर रहे हैं.

बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में जनपदों के प्रभारी मंत्रियों को दौरा करने की हिदायत देने के साथ सीएम योगी खुद भी जनता के बीच हैं. सीएम योगी ने पीड़ितों को भरोसा दिलाया कि बाढ़ और अतिवृष्टि से जो भी नुकसान हुआ है, सरकार उसकी भरपाई करेगी. सीएम ने बाढ़ पीड़ितों के बीच राहत सामग्री का वितरण कर अधिकारियों को निर्देशित किया कि एक भी पीड़ित राहत सामग्री व शासन की योजनाओं के लाभ से वंचित नही होना चाहिए.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

सीएम योगी गुरुवार को गोरखपुर पहुंचेंगे और वहां बाढ़ प्रभावित गोरखपुर मंडल और बस्ती मंडल में दौरा करेंगे.मुख्यमंत्री योगी दो दिनों तक यानी गुरुवार और शुक्रवार को बस्ती और गोरखपुर मंडल के जिलों के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में मौजूद रहेंगे.

बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के युद्धस्तरीय दौरे के क्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार को बस्ती मंडल के बस्ती, सिद्धार्थनगर, संतकबीरनगर जिलों के साथ ही गोरखपुर मंडल के महराजगंज , देवरिया , कुशीनगर,और गोरखपुर के लोगों के बीच पहुंचेंगे. उनकी दिक्कत साझा करने के साथ राहत सामग्री का वितरण करेंगे. इसी क्रम में शुक्रवार को भी गोरखपुर के कैम्पियरगंज, सहजनवा व सदर तहसील के बाढ़ पीड़ितों के बीच उनका दौरा संभावित है.

पीलीभीत: बिन मौसम बरसात से धान की फसल बर्बाद, किसानों को अब मुआवजे की आस

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT