window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

नोएडा : एक्सीडेंट में चकनाचूर हो गई कार, 15 मिनट तक फंसी रहीं मां-बेटी, ऐसे बची जान

अरुण त्यागी

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

Noida News : ग्रेटर नोएडा स्तिथ यमुना एक्सप्रेसवे पर दनकौर थाना क्षेत्र में आज फिर एक बड़ा हादसा हो गया. यहां एक ईट से भरे ट्राली से एक कार का टकरा गई. ईटों से भरे ट्राली से क्रेटा कार टकराने के बाद कार में मां और बेटी फंस गई. जिसके बाद वह काफी देर तक चिल्लाती रही और वह बाहर नहीं निकल पाई. स्थानीय लोगों ने पुलिस की मदद से लोहे की रोड से कड़ी मशक्कत के बाद दोनों घायलों को बाहर निकाला. घायलों को नजदीक अस्पताल में भर्ती कर दिए गए हैं, जहां पर उनका उपचार चल रहा है. 

एक्सीडेंट में चकनाचूर हो गई कार

आपको बता दें कि शुक्रवार को यमुना एक्सप्रेसवे पर दनकौर थाना क्षेत्र के अंतर्गत स्पोर्ट सिटी के पास एक ट्रोला ईटों से भरा हुआ जा रहा था, तभी पीछे से आई करता कर ने टोला में जोरदार टक्कर मारी. जोरदार टक्कर मारने के बाद ट्राली हाईवे के फुटपाथ से टकरा गया. वहीं क्रेटा कार में सवार मां बेटी दोनों कार में ही फंस गयी. कड़ी मशक्कत के बाद दोनों घायल मां बेटी को कार से निकलकर नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां पर उनका इलाज चल रहा है.

कार के अंदर फंस गई मां-बेटी

वहीं इस मामले में ज्यादा जानकारी देत हुए पुलिस ने बताया कि, 'दनकौर थाना क्षेत्र के अंतर्गत यमुना एक्सप्रेसवे पर जेपी कट के पास शुक्रवार को एक हादसा हो गया. शुक्रवार की सुबह दिल्ली निवासी शिखा क्रेटा कार से अपनी मां के साथ दिल्ली के लिए जा रही थी, जैसे ही वह दनकौर थाना क्षेत्र में स्पोर्ट सिटी के पास पहुंची तो सामने चल रहे ईटों से भरे ट्रोली से अनबैलेंस होकर  कार टकरा गई. टक्कर इतनी जबरदस्ती की करता कार के परखच्चे उड़ गए और उसमें दोनों मां बेटी फंस गई.'

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

ऐसे बची जान 

हादसे के बाद दोनों मां बेटी कार में फंसी हुई चीख पुकार मचाने लगी, जिसको सुनकर आसपास के लोगों ने उनको कर से निकलने का प्रयास किया. सूचना के बाद स्थानीय पुलिस भी मौके पर पहुंच गई. पुलिस ने लोगों के साथ मिलकर कार में फांसी मां बेटी को रस्सी व लोहे की रोड से कड़ी मशक्कत के बाद बाहर निकाला. कार से बाहर निकालने के बाद दोनों घायल मां बेटी को एंबुलेंस की मदद से नजदीकी अस्पताल में भर्ती कर दिया गया है. दोनों घायलों की स्थिति सामान्य है, पुलिस ने एक्सप्रेसवे से कर और ट्रैक्टर ट्राली को साइड में कर दिया है, यातायात सामान्य गति से चल रहा है.

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT