ट्विन टावर के 30K टन कचरे का पुनर्चक्रण करेगी रि-सस्टेनेबिलिटी, निर्माण सामग्री में बदलेगी
फोटो कोलाज: यूपी तक

ट्विन टावर के 30K टन कचरे का पुनर्चक्रण करेगी रि-सस्टेनेबिलिटी, निर्माण सामग्री में बदलेगी

रि-सस्टेनेबिलिटी कंपनी नोएडा में ढहाए गए ट्विन टावर (Twin Tower) से उत्पन्न 30,000 टन कचरे का पुनर्चक्रण (रि-साइकिल) करेगी. रि-सस्टेनेबिलिटी को कचरे का पुनर्चक्रण करने के लिए तीन माह का ठेका मिला है. कंपनी ने बुधवार को कहा कि कचरे को निर्माण सामग्री में बदला जाएगा.

करीब 100 मीटर ऊंचे दो टावरों को रविवार (28 अगस्त) को ढहा दिया गया था. इसे ध्वस्त करने में 3,700 किलोग्राम से अधिक विस्फोटकों का इस्तेमाल किया गया था.

कंपनी ने बयान में कहा कि विध्वंस के 10 सेकंड के अंदर करीब 30,000 टन कचरा जमा हो गया.

बयान में कहा गया है कि एशिया की प्रमुख पर्यावरण प्रबंधन और सर्कुलर कंपनी रि सस्टेनेबिलिटी को निर्माण और विध्वंस कचरे के निपटान तथा कुशल अपशिष्ट संग्रह और पुनर्चक्रण की जिम्मेदारी दी गई है.

कंपनी तीन महीने तक नोएडा के कचरा प्रसंस्करण और पुनर्चक्रण संयंत्र में प्रतिदिन 300 टन कचरे का प्रसंस्करण करेगी.

रि-सस्टेनेबिलिटी के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) मसूद मलिक ने कहा कि कंपनी ने कचरे के पुनर्चक्रण और उसे निर्माण सामग्री में बदलने की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी ली है.

ट्विन टावर के 30K टन कचरे का पुनर्चक्रण करेगी रि-सस्टेनेबिलिटी, निर्माण सामग्री में बदलेगी
नोएडा में बारिश: ध्वस्त हो चुके ट्विन टावर के आसपास के लोगों को शुद्ध हवा मिलने की उम्मीद

Related Stories

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in