आकाश आनंद की रैलियों पर क्‍यों लगा ब्रेक? FIR बनी वजह या इसके पीछे कुछ और कहानी, जानें इनसाइड स्टोरी

कुमार अभिषेक

ADVERTISEMENT

Uttar Pradesh News :  बसपा प्रमुख मायावती के भतीजे और पार्टी के नेशनल कोआर्डिनेटर आकाश आनंद फिलहाल प्रदेश में चुनावी जनसभाएं करते नहीं दिख रहे हैं.

social share
google news

Uttar Pradesh News :  बसपा प्रमुख मायावती के भतीजे और पार्टी के नेशनल कोआर्डिनेटर आकाश आनंद फिलहाल प्रदेश में चुनावी जनसभाएं करते नहीं दिख रहे हैं. बता दें कि  आकाश आनंद ने पहली बार यूपी में ताबड़तोड़ 10 रैलियां कीं. पहले और दूसरे चरण के मतदान के पहले आकाश आनंद ने बसपा के लिए बेहद आक्रामक अंदाज में रैलियां की थी.  वहीं सीतापुर में रैली के बाद आकाश आनंद पर  FIR हो गई, जिसके बाद वो एक भी रैली करते हुए नहीं दिखाई दिए. अब सवाल ये उठ रहा है कि आकाश की रैलियां होनी अचानक बंद क्यों हो गईं. 

आकाश आनंद की रैलियों पर क्‍यों लगा ब्रेक? 

वहीं मई महीने में आकाश आनंद की एक भी रैली ना होने की वजह भी पार्टी नेताओं ने बताई. पार्टी नेताओं के मुताबिक आकाश आनंद की रैलियां पहले और दूसरे चरण के लिए  ही प्रस्तावित थी, इसलिए उनकी रैली अब नहीं हो रही है. पश्चिमी उत्तर प्रदेश में चुनवा के पहले उनकी सभी रैलियां थी. वहीं अब खुद बसपा प्रमुख मायावती चुनावी कमान संभालेंगी और अब उनकी ताबड़तोड़ रैलियां देखने को मिलेंगी. 

बता दें कि सीतापुर रैली के बाद आकाश आनंद पर आचार संहिता उल्‍लंघन का मामला दर्ज कर लिया गया था. यह आकाश आनंद पर पहली एफआईआर थी. ऐसा कहा जा रहा था कि सीतापुर में आकाश आनंद के खिलाफ जब से एफआईआर हुई है, तब से वह चुनावी मैदान से पीछे हट गए हैं. जबकि पार्टी नेताओं का कहना है कि उनकी रैलियां बस पहले और दूसरे चरण के लिए ही प्रस्तावित थी. 
 

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT