window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

क्या देश में नई सरकार बनेगी? इस बड़े सियासी मिशन का पूरा खाका लेकर दिल्ली पहुंचे अखिलेश यादव

यूपी तक

ADVERTISEMENT

Akhilesh Yadav
Akhilesh Yadav
social share
google news

Akhilesh Yadav:  लोकसभा चुनाव का परिणाम सामने आ चुका है. भाजपा नीत एनडीए को 292 सीट मिली हैं तो वहीं विपक्षी इंडिया गठबंधन को 234 सीट ही मिल पाई हैं. दूसरी तरफ अन्य के खातों में 17 सीट भी आई हैं. खास बात ये है कि भाजपा को बहुमत नहीं मिला है. भाजपा को 240 सीटों पर ही जीत मिली है. 

ऐसे में अब विपक्षी गठबंधन ‘INDIA’ भी एक्टिव हो गया है. जहां एनडीए नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में तीसरी बार सरकार बनाने का दावा पेश करने जा रही है तो वहीं दूसरी तरफ नई दिल्ली में विपक्षी गठबंधन की भी अहम बैठक होने जा रही है. विपक्षी गठबंधन की इस अहम बैठक में हिस्सा लेने समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव भी नई दिल्ली पहुंचे हैं.

दरअसल अखिलेश यादव ही विपक्ष के समीकरण में अहम भूमिका निभाने वाले हैं, क्योंकि उन्होंने सभी को चौंकाते हुए यूपी में 37 सीटें जीती हैं और भाजपा को बहुमत से रोका है. सपा के साथ गठबंधन करके कांग्रेस ने भी यूपी में शानदार वापसी की है और 6 सीटों पर कब्जा जमाया है.  

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT


इस बैठक पर सभी की नजर

बता दें कि विपक्ष की ये अहम बैठक कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के आवास पर हो रही हैं. बैठक में शामिल होने के लिए अखिलेश यादव के अलावा, एमके स्टालिन, तेजस्वी यादव, संजय राउत, शरद पवार, सीपीआई, टीएमसी, आम आदमी पार्टी समेत विपक्षी दलों के कई बड़े नेता पहुंचे हैं. इस बैठक में आगे की रणनीति पर फैसला होना है. इस बैठक में ये भी फैसला होगा कि क्या इंडिया गठबंधन सरकार बनाने की कोशिश करेगी या नहीं?

माना जा रहा है कि विपक्षी गठबंधन नीतीश कुमार और चंद्रबाबू नायडू से बात कर सकता है. अगर इंडिया गठबंधन सरकार बनाने की कोशिश करता है तो उसमें नीतीश कुमार और चंद्रबाबू नायडू से बात करना बहुत जरूरी है. दूसरी तरफ नीतीश कुमार और चंद्रबाबू नायडू ने फिलहाल एनडीए में ही बने रहने का फैसला लिया है. मगर सियासत में कभी भी कुछ भी हो सकता है. इतना तय है कि अखिलेश यादव अब बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाने जा रहे हैं.

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT