window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की पत्नी बोली- शेर को गीदड़ों ने मारा

यूपी तक

ADVERTISEMENT

सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की पत्नी बोली- शेर को गीदड़ों ने मारा
सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की पत्नी बोली- शेर को गीदड़ों ने मारा
social share
google news

श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या के मामले ने तूल पकड़ रखा है. इस मामले में राजस्थान के अलावा उत्तर प्रदेश के भी अलग-अलग हिस्सों में बवाल हो रहा है. अबतक राजपूत समाज ही अपनी मांगों को लेकर बवाल काट रहा था. अब सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की पत्नी भी सड़क पर उतर आई हैं. सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या पर उनकी पत्नी शीला शेखावत ने कहा है कि दगा करके एक शेर को गीदड़ों ने मार दिया है. उन्होंने लोगों से अपील की है कि पति के हत्यारों को पकड़ने में साथ दें.

आपको बता दें कि 5 दिसंबर को जयपुर में अज्ञात हमलावरों ने श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी के घर में घुसकर उन पर गोलियां चला दीं. अस्पताल में उन्होंने दम तोड़ दिया. गोगामेड़ी की हत्या के बाद यूपी के शाहजहांपुर, वाराणसी, अमेठी बस्ती समेत अन्य जिलों से प्रदर्शन की खबरें सामने आई हैं. शाहजहांपुर में जहां गहलोत सरकार का पुतला फूंका गया, वहीं वाराणसी में गोगामेड़ी के हत्यारों को फांसी देने की मांग की गई. खबर में आगे गोगामेड़ी के बारे में विस्तार से जानिए.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की पत्नी ने क्या-क्या कहा

सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की पत्नी शीला शेखावत ने कहा, ‘मैं आप लोगों के बीच में कल भी आना चाहती थी लेकिन मेरी कंडीशन ऐसी नहीं थी कि मैं आप लोगों के बीच आऊं. लेकिन आपके दादा ने बोला था वो बात आज वो बात मैं आपके सामने दोबारा से दोहराना चाहती हूं कि मैंने हर गली में, हर घर में सुखदेव सिंह पाला है. तो क्या वो सुखदेव सिंह तैयार हैं? क्योंकि आज मुझे उन सुखदेव सिंह की बहुत जरूरत है. आज फिर से उन लोगों ने दगा किया है. दगा करके एक शेर को गीदड़ों ने मारा है. एक हीरे को हमने खोया है.’

उन्होंने आगे कहा, ‘मेरे ऊपर क्या बीत रही है वो आप लोगों के सामने बयान भी नहीं कर सकती. लेकिन मैं मेरे भाइयों से शेयर करना चाहती हूं कि भाइयों, जितनी मांगें मानी है ठीक है लेकिन एक मांग मेरी भी है जिसमें आप लोगों का सपोर्ट चाहिए. ये लोग कह सकते हैं कि अपराधी अरेस्ट हो गए. लेकिन जब तक हमारे सामने उन गुंडों को अरेस्ट करके नहीं लाएंगे तब तक आपको हिलना नहीं है. सुखदेव सिंह ने कभी लैटर पर आश्वासन नहीं लिया, सुखदेव सिंह ने ताल ठोक के अपना काम करवाया है. वैसे ही आप लोग भी सुखदेव सिंह हो आपको अपनी बहन के लिए ताल ठोकनी है.’

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT