window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

बरेली में फंदे से लटका मिला 12 साल की बच्ची का शव, भाई के ससुर ने की वारदात! वजह चौंकाने वाली

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

Bareilly News : बरेली के थाना हाफिजगंज क्षेत्र में ग्राम गोटिया में एक 12 साल की बच्ची का शव उसी के घर में फंदे से लटका हुआ मिला. इस सूचना पर इलाके में हडंकप मच गया, सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस अधिकारी भी पहुंचे. घटना की जांच की छानबीन की गई तो पता चला कि रंजिश में बेटी की हत्या की गई है. आरोप है कि 12 साल की रिद्धिमा का शव घर में फंदे से लटका हुआ मिला.

फंदे से लटका मिला 12 साल की बच्ची का शव

रिद्धिमा की मां कमलेश ने बेटे के ससुराल वालों पर ही बेटी की हत्या करके शव लटकाने का आरोप लगाया. बताया जा रहा है मृतका के बड़े भाई पवन ने गांव की ही लड़की से लव मैरिज की थी. जिसके कारण उसे माता-पिता ने संपत्ति से बेदखल कर दिया था. उसके बाद से ही बेटे के ससुराल वाले रिद्धिमान से रंजीश करने लगे थे. इसी वजह से घटना को अंजाम दिया गया. वहीं बच्ची की मां कमलेश की ओर से बेटे पवन के ससुर गंगा देव और दो लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है. फिलहाल शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है.

बेटी को देना चाह रहे थे पूरी संपत्ति

बता दें कि एक साल पहले पवन ने उनकी बेटी से भुता के मंदिर में प्रेम विवाह किया था. उस वक्त धर्मेंद्र व उनके परिजन शादी में शामिल नहीं हुए थे, लेकिन गंगादेव व उसका परिवार पवन के साथ थायधर्मेंद्र ने पवन को अपनी संपत्ति से बेदखल कर दिया था. इस संपत्ति में मकान व नकदी-जेवर के साथ ही साढ़े बारह बीघा जमीन भी शामिल थी. परिवार के लोगों ने पूरी संपत्ति का वारिस रिद्धिमा को बना दिया और सब कुछ रिद्धिमा को देने के लिए ही तैयारी चल रही थी. इसी वजह से पवन के ससुराल वाले रंजिश करने लगे और लगातार हत्या की भी धमकी देने लगे.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार

रिद्धिमा की हत्या की गई है या कुछ और कारण है यह बात पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने के बाद ही पता चलेगा. बताया जा रहा है कि लड़की के पिता धर्मेंद्र कुमार किसानी करते हैं. दोपहर करीब 3:00 बजे रिद्धिमा स्कूल से लौटी इसके बाद वह घर पर अकेली ही थी. माता-पिता बेटी को घर पर छोड़कर स्वास्थ्य केंद्र पर दवाई लेने के लिए गए हुए थे. जब वह घर आए तो देखा की बेटी घर की चौखट के पास कुंड से फंदे से लटकी हुई है. यह देखते ही माता-पिता के पैरों तले से जमीन खिसक गई.

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT