प्रयागराज में एक ही परिवार के 5 लोगों की हत्या मामला: UPSTF करेगी मर्डर मिस्ट्री की जांच

प्रयागराज में एक ही परिवार के 5 लोगों की हत्या मामला: UPSTF करेगी मर्डर मिस्ट्री की जांच
फोटो: पंकज श्रीवास्तव

प्रयागराज जिले के गंगापार थरवाई थाना क्षेत्र के खेवराजपुर गांव में शुक्रवार की रात एक ही परिवार के पांच लोगों की हत्या कर दी गई. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय कुमार ने बताया कि थरवई थाने की पुलिस को सुबह साढ़े पांच बजे सूचना मिली कि एक घर में चार-पांच लोग मृत अवस्था में मिले हैं. अब इस मामले में यूपी के एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) प्रशांत कुमार की प्रतिक्रिया सामने आई है. उन्होंने कहा है कि यूपी एसटीएफ प्रयागराज मर्डर मिस्ट्री की जांच करेगी.

इसके अलावा प्रशांत कुमार ने बताया है,

  • "किसी कुंद वस्तु से वार कर लोगों की हत्या की गई है."

  • "वरिष्ठ अधिकारियों को प्रयागराज जिले में भेज दिया गया है और मामले का खुलासा होने तक वे वहीं रहेंगे."

  • "पीड़ित परिवार से तहरीर मिल गई है. अगर पुलिस की ओर से कोई गैर-जिम्मेदारी पाई गई तो कार्रवाई की जाएगी."

  • "घटना के बाद कॉल 112 समय पर पहुंच गई थी."

  • "प्रयागराज जिले में पहले एक घटना हुई थी, लेकिन इस मामले से इस घटना का कोई संबंध नहीं है."

अब तक क्या सामने आया?

प्रयागराज के गंगापार थरवाई थाना क्षेत्र के खेवराजपुर गांव में शुक्रवार की रात एक ही परिवार के पांच लोगों की हत्या कर दी गई. इस सूचना पर पुलिस के आला अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे. उन्होंने बताया कि घटनास्थल पर घर के मुखिया राजकुमार, उनकी पत्नी, उनकी बहू, उनकी बेटी और उनकी एक नातिन- कुल पांच लोग मृत पाए गए और राजकुमार की एक नातिन जिसकी उम्र पांच साल है, वह जीवित है.

थरवई थाना के एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि मृतकों में राजकुमार यादव (55 वर्ष), राजकुमार की बेटी मनीषा (25 वर्ष), राजकुमार की पत्नी कुसुम (50 वर्ष), राजकुमार की बहू सविता (30 वर्ष) और राजकुमार की नातिन मीताक्षी (दो वर्ष) शामिल हैं. वहीं राजकुमार की दूसरी नातिन पांच वर्षीय साक्षी सुरक्षित और जीवित है.

अहम बिंदु

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया कि घटनास्थल का निरीक्षण करने पर पाया गया कि घर के बेडरूम में आग भी लगी हुई थी जिसे दमकल द्वारा बुझा दिया गया. उन्होंने बताया कि सविता के मायके वाले और घर के लोग यहां पहुंच गए हैं और उनसे बातचीत की जा रही है. वे जो भी तहरीर देंगे, उस पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा. पूरे मामले को देखने के लिए सात टीमें बनाई गई हैं. फील्ड यूनिट और ‘श्वान दल’ ने भी सबूत एकत्र कर लिए हैं.

दूसरी तरफ परिवार के लोगों का कहना है कि इस घटना के पीछे गांव में आई बारात में शराब पीने को लेकर हुआ विवाद भी एक वजह हो सकती है. फिलहाल सभी शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है. गांव में भारी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात है.

परिवार के करीबी रिश्तेदार ने लगाए संगीन आरोप

परिवार के करीबी रिश्तेदार व मृतका कुसुम के भाई राजेश यादव का कहना है, "रेप के बाद इस घटना को अंजाम दिया गया. घर में लूट नहीं हुई है. गांव में ही आई बरात में कुछ लोग शराब पीने के लिए घर के पीछे नल से पानी ले रहे थे, जिसका राजकुमार यादव ने विरोध किया. आशंका है उन्हीं लोगों ने इस वारदात को अंजाम दिया है."

घटना पर विपक्ष ने सरकार को सरकार को घेरा

मामले में समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने कहा, "‘‘आज का अपराधनामा-प्रयागराज में फिर सामूहिक हत्या, एक परिवार के पांच लोगों का गला रेता, शवों को जलाने के लिए घर में लगा दी आग.’’
फोटो: अखिलेश यादव/ ट्विटर

वहीं, बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) के मुखिया मायावती ने इस घटना को लेकर ट्वीट करते हुए कहा, "उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में एक ही परिवार के पांच लोगों की निर्मम हत्या किए जाने की खबर अति-दुःखद, निन्दनीय व चिन्ताजनक. सरकार घटना की तह में जाकर दोषियों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई सुनिश्चित करे."

प्रयागराज में एक ही परिवार के 5 लोगों की हत्या मामला: UPSTF करेगी मर्डर मिस्ट्री की जांच
प्रयागराज SSP बोले, 'अगर अतीक के बेटे अली की मुठभेड़ में जान गई तो इनाम की राशि...'

संबंधित खबरें

No stories found.