नौकरी दिलाने के नाम पर करोड़ों की ठगी? स्वामी प्रसाद मौर्य का निजी सचिव रहा अरमान अरेस्ट

नौकरी दिलाने के नाम पर करोड़ों की ठगी? स्वामी प्रसाद मौर्य का निजी सचिव रहा अरमान अरेस्ट
तस्वीर: संतोष शर्मा, यूपी तक.

यूपीएसटीएफ ने बेरोजगार युवकों को नौकरी दिलाने के नाम पर करोड़ों की ठगी करने के आरोपी अरमान समेत 5 लोगों को गिरफ्तार किया है. अरमान पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य का निजी सचिव भी रह चुका है.

अरमान खान के साथ अरेस्ट किए गए अन्य आरोपियों में असगर अली, मोहम्मद फैजी, विशाल गुप्ता और अमित राव शामिल हैं.

गिरफ्तार आरोपियों के पास से 7 मोबाइल, साइन किए हुए 57 चेक, पांच कूट रचित आईडी कार्ड, 22 नियुक्तित पत्, 14 व्यक्तियों के शैक्षिक प्रमाण पत्र और बिना साइन किए हुए दो सचिवालय पास बरामद किए गए हैं.

आरोपियों को यूपी एसटीएफ ने हजरतगंज इलाके से गिरफ्तार किया है. कभी स्वामी प्रसाद मौर्य के निजी सचिव रहे आरोपी अरमान का वेतन श्रम विभाग से मिलता रहा है. रिपोर्ट्स के मुताबिक वह अपने कार्यालय का उपयोग सलाहकार इत्यादि के लिए करता था और समय-समय पर विभिन्न बहानों से पूर्व मंत्री को अभ्यर्थियों से मिलवाता रहता था.

संबंधित खबरें

No stories found.