कानपुर: दारोगा को PM-CM पर अभद्र टिप्पणी करना पड़ा भारी, मिली अनिवार्य रिटायरमेंट की सजा

कानपुर में दारोगा नगेंद्र यादव को अनिवार्य रिटायरमेंट कर दिया गया है.
कानपुर में दारोगा नगेंद्र यादव को अनिवार्य रिटायरमेंट कर दिया गया है.फोटो: रंजय सिंह, यूपी तक

उत्तर प्रदेश के कानपुर में साउथ इलाके में तैनात दारोगा नगेंद्र यादव को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ पर कथित तौर पर अभद्र भाषा का प्रयोग करना भारी पड़ गया. कानपुर पुलिस ने दारोगा नगेंद्र यादव को अनिवार्य रिटायरमेंट कर दिया है.

दरअसल, पिछले दिनों दारोगा नगेंद्र यादव ने सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ पर कथित तौर पर अभद्र टिप्पणी की थी. इसके बाद दारोगा नगेंद्र यादव के खिलाफ विभागीय जांच हुई. विभागीय जांच में दोषी पाए जाने के बाद कानपुर पुलिस के उच्च अधिकारियों द्वारा नगेंद्र यादव को अनिवार्य रिटायरमेंट की सजा सुनाई गई.

इसके अलावा नगेंद्र यादव पर ड्यूटी के दौरान नशा करने और अनुशासन तोड़ने का भी आरोप है. बताया जा रहा है कि पीएम मोदी और सीएम योगी पर कथित तौर पर अभद्र टिप्पणी करने के साथ ही 'नशा करने और अनुशासन तोड़ने' के चलते कानपुर पुलिस ने दारोगा नगेंद्र यादव अनिवार्य रिटायरमेंट देने का फैसला किया.

मामले को लेकर कानपुर के ज्वाइंट कमिश्नर आनंद कुलकर्णी ने बताया, "नगेंद्र यादव पर देश के माननीय और संवैधानिक लोगों पर अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने का आरोप तो है ही, इसके अलावा उनपर ड्यूटी में अनुशासनहीनता का भी आरोप है. वर्दी पहनकर ड्यूटी के दौरान नगेंद्र यादव कई बार शराब पीने के भी दोषी पाए गए हैं. इन सब को देखते हुए हेड क्वार्टर के आदेश पर उन्हें अनिवार्य रिटायरमेंट दिया गया है."

आनंद कुलकर्णी ने आगे बताया कि नगेंद्र यादव को 3 महीने का वेतन देकर पुलिस की नौकरी से बाहर कर दिया गया है. हालांकि, उन्हें पेंशन मिलती रहेगी.

वहीं इस पूरे मामले में दारोगा का पक्ष जानने के लिए उनसे संपर्क किया गया, मगर बातचीत नहीं हो पाई.

कानपुर में दारोगा नगेंद्र यादव को अनिवार्य रिटायरमेंट कर दिया गया है.
कानपुर: क्लर्क ने छुट्टी के आवेदन में लिखी पत्नी से प्रेम-मोहब्बत तकरार की बात, लेटर वायरल

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in