मेरठ में 130 दिन बाद कोरोना को मात देकर घर लौटा शख्स, एक समय डॉक्टरों ने छोड़ थी उम्मीद

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

उत्तर प्रदेश के मेरठ से एक बेहद ही सकारात्मक खबर सामने आई है. न्यूज एजेंसी ‘एएनआई’ के मुताबिक, मेरठ में महामारी कोरोना वायरस की दूसरी लहर के दौरान संक्रमित हुए विश्वास सैनी नामक शख्स अब अस्पताल से 130 दिन बाद डिस्चार्च होकर घर लौट आए हैं. आपको बता दें कि विश्वास 28 अप्रैल को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे. हालांकि, विश्वास को अब भी कुछ देर के लिए ऑक्सीजन सपोर्ट की जरूरत पड़ती है.

विश्वास का इलाज करने के वाले डॉक्टर ने बताया कि बीमारी की शुरुआत में तो उन्हें घर पर रखा गया था. बाद में विश्वास की हालत बिगड़ने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया. हालत ज्यादा खराब होने पर विश्वास करीब एक महीने तक वेंटीलेटर सपोर्ट पर भी रहे. इसके बाद ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखकर उनका इलाज किया गया. एक समय ऐसा भी आया था जब डॉक्टर ने सकारात्मक परिणाम की उम्मीद छोड़ दी थी.

“अस्पताल में लोगों को मरते देख हो गया था चिंतित”

विश्वास ने बताया कि अस्पताल में अपने आसपास लोगों को मरता देख वह घबरा गए थे. लेकिन उनके डॉक्टर ने उनका हौसला बढ़ाया और ठीक होने पर ध्यान देने को कहा. करीब 3 महीने और 10 दिन के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज होने के बाद घर लौटने पर विश्वास खुश हैं.

प्रदेश में कोविड और वैक्सीनेशन की क्या है स्थिति?

15 सितंबर तक के आंकड़ों के मुताबिक, उत्तर प्रदेश में फिलहाल कोरोना के 182 मामले एक्टिव हैं. यूपी में प्रतिदिन 2.25 लाख से 2.50 लाख तक टेस्ट हो रहे हैं. प्रदेश में रिकवरी दर 98.7% है. अब तक प्रदेश में 7.45 करोड़ से अधिक लोगों ने टीके की पहली डोज प्राप्त कर ली है, जबकि 1.52 करोड़ से ज्यादा लोगों ने दोनों डोज का कवर पा लिया है.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

कोविड वैक्सीनेशन की दूसरी डोज को लेकर कैसे बिहार-झारखंड से पीछे है यूपी? आंकड़ों से समझिए

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT