window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

UP ATS ने जिया उल हक को दबोच ही लिया, इसने देश के साथ जो किया, उसे जान गुस्सा आएगा

संतोष शर्मा

ADVERTISEMENT

UP News
UP ATS, Lucknow, Lucknow News, UP News, UP Hindi News, sant kabir nagar, ISI Agent
social share
google news

UP News: उत्तर प्रदेश एटीएस को बड़ी सफलता हाथ लगी है. एटीएस ने पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के एजेंट को दबोचा है. ये एजेंट आईएसआई के हैंडलर्स को भारतीय सेना की गोपनीय जानकारी देता था. पिछले काफी समय से एटीएस को इसकी तलाश थी. बता दें कि पाकिस्तानी एजेंसी आईएसआई के लिए काम करने वाले इस एजेंट का नाम जिया उल हक है. 

मिली जानकारी के मुताबिक, यूपी एटीएस ने आईएसआई के लिए काम करने वाले पाकिस्तानी एजेंट जिया उल हक को संत कबीर नगर से गिरफ्तार किया है. दरअसल एटीएस को इनपुट मिला था कि आरोपी संत कबीर नगर के खलीलाबाद रेलवे स्टेशन पर आने वाला है. एटीएस ने इसको पकड़ने की योजना पहले ही बना ली थी. तभी एटीएस ने इसे दबोच लिया. बताया जा रहा है कि जिया उल हक पश्चिम बंगाल का रहने वाला है.

ISI से लेता था पैसा

दरअसल ये पूरा मामला साल 2023 में सामने आया था. यूपी एटीएस ने 3 लोगों को गिरफ्तार किया था. आरोप था कि ये तीनों आईएसआई से पैसे लेकर भारतीय सेना की जानकारी आईएसआई को भेजते हैं. इन तीनों से पूछताछ के दौरान एटीएस को जिया उल हक के बारे में भी पता चला था. 

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

नेपाल का नंबर करता था इस्तेमाल

जांच में सामने आया था कि जिया उल हक पाकिस्तानी हैंडलर्स से सीधे संपर्क में था. वह सीधे की पाकिस्तानी हैडलर से बात करता था. तभी से एटीएस की इसपर निगाह थी. बता दें कि जिया उल हक नेपाल का नंबर चलाता था. इसी से वह आईएसआई हैंडलर से बात किया करता था. बता दें कि आरोपी की गिरफ्तारी के बाद अब उसे कोर्ट में पेश किया जाएगा. इसके बाद यूपी एटीएस उसकी रिमांड लेगी.
 

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT