सीनियर IAS के सामने धर्मांतरण का पाठ? वीडियो वायरल हुआ, योगी सरकार ने जांच के लिए बनाई SIT

रंजय सिंह

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

उत्तर प्रदेश के एक सीनियर आईएएस अधिकारी इफ्तखारुद्दीन कथित तौर पर धर्मांतरण से जुड़े एक वीडियो के वायरल होने के बाद जांच के दायरे में आ गए हैं. वायरल वीडियो में सीनियर अधिकारी के सामने बैठे लोग धर्म परिवर्तन के फायदे गिनाते नजर आ रहे हैं. वायरल वीडियो में अधिकारी भी कथित तौर पर इस्लाम धर्म के प्रचार की बातें कर रहे हैं. वीडियो वायरल होने के बाद अब यूपी सरकार ने इसकी जांच के लिए एसआईटी के गठन का आदेश दे दिया है.

यूपी सरकार के गृह विभाग ने ट्वीट कर जानकारी दी है. इसमें लिखा गया है, ‘कानपुर के आईएएस श्री इफ्तखारुद्दीन के मामले में शासन द्वारा एसआईटी से जांच के आदेश दिए गए हैं. एसआईटी के अध्यक्ष डीजी सीबीसीआईडी जीएल मीणा होंगे एवं सदस्य एडीजी ज़ोन भानु भास्कर होंगे. एसआईटी अपनी रिपोर्ट 7 दिन में शासन को प्रेषित करेगा.’

क्या है वायरल वीडियो में?

इस वायरल वीडियो में अधिकारी अपने धर्म की जमात में शामिल होते नजर आ रहे हैं. उनके सामने बैठे मौलाना खुद ही पंजाब के एक युवक के धर्म बदलने के लिए अपने पास आने का जिक्र कर रहे हैं. आपको बता दें कि IAS इफ्तखारुद्दीन इस समय लखनऊ में परिवहन विभाग में तैनात हैं. वह पांच साल पहले कानपुर में कमिशनर की पोस्ट पर थे. वायरल वीडियो में जिस तरह कानपुर का जिक्र हो रहा है, उससे लगता है यह उनकी कानपुर की पोस्टिंग के दौरान का हो सकता है.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

यह वीडियो ऐसे समय में वायरल हुआ है जब यूपी सरकार पूरे प्रदेश में धर्म परिवर्तन के खिलाफ सख्ती का दावा कर रही है. वीडियो में सीनियर आईएएस इफ्तखारुद्दीन एक धर्म गुरु के साथ कुछ लोगों के सामने कथित तौर इस्लाम धर्म अपनाने के फायदे बता रहे हैं. वीडियो में इस्लामिक वक्ता उपस्थित लोगों को इस्लाम धर्म कबूल करने के फायदे बताते नजर आ रहे हैं. वह बता रहे हैं कि कि इस्लाम मे बहन-बेटियों को जलाया नही जाता.

IAS इफ्तिखारुद्दीन बाकी के दो वीडियो में पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी की किसी किताब के बारे में बता रहे है. वह वीडियो में खुद भी कथित तौर पर दुनिया में अल्लाह और रसूल के मिशन को आगे बढ़ाने की बात कहते नजर आ रहे हैं.

ADVERTISEMENT

कानपुर के भूपेंद्र अवस्थी ने दर्ज कराई है शिकायत

वायरल वीडियो को लेकर कानपूर के भूपेंद्र अवस्थी ने सीएम के पोर्टल पर शिकायत करके आईएएस के खिलाफ जांच की मांग की है. भूपेश अवस्थी मठ एवं मंदिर समन्यवय समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं.

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT