लखीमपुर खीरी मामले में भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद ने CM योगी से मांगा इस्तीफा

लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri News) जिले के निघासन क्षेत्र में बुधवार शाम एक खेत में दो सगी बहनों के शव पेड़ पर फंदे से लटकते मिले. दोनों लड़किया दलित समुदाय की थीं. इस घटना को लेकर विपक्ष योगी सरकार पर लगातार हमलावर है. इसी कड़ी में भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद ने योगी सरकार पर जमकर हमला बोला है.

यूपी तक से बातचीत में चंद्रशेखर आजाद (Chandrashekhar Azad) ने इस घटना को लेकर यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) से उनके इस्तीफे तक की मांग कर दी है. चंद्रशेखर ने ये भी बताया कि वह कुछ दिनों बाद लखीमपुर खीरी में पीड़ित परिजनों से जाकर मुलाकात करेंगे.

उन्होंने कहा कि आरोपियों के हौसले देखिए कि वे दोनों बच्चियों को उठाकर ले जाते हैं फिर रेप करते हैं और उसके बाद हत्या. ये हौसला कहां से आ रहा है उनके अंदर? चंद्रशेखर ने कहा कि ये घटना बदायूं कांड और हाथरस कांड की याद दिलाती है.

भीम आर्मी चीफ ने NCRB 2021 के डाटा के हवाले से कहा कि दलित उत्पीड़न की सबसे ज्यादा घटनाएं यूपी में हो रही हैं. 13 हजार से अधिक दलितों के साथ आपराधिक घटनाएं दर्ज हुई हैं. ये मामले तब दर्ज होते हैं जब हम जैसे लोग लड़ते हैं.

उन्होंने कहा कि प्रदेश की कानून व्यवस्था पर मुख्यमंत्री को तो जवाब देना चाहिए.

चंद्रशेखर ने कहा कि यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जो अपनी पिछली सरकार में दलितों को नहाने के लिए साबुन दिलाया करते थे, क्या उनकी जिम्मेदारी नहीं बनती उस परिवार के आंसू पोछने की? क्या सीएम उस परिवार से मिलने नहीं जा सकते? क्या हाथरस में परिवार से मिलने नहीं जा सकते मुख्यमंत्री? क्या दलितों से आज भी सरकार को इतनी नफरत है?

(चंद्रशेखर आजाद का पूरा इंटरव्यू देखने के लिए ऊपर शेयर किए गए वीडियो पर क्लिक करें.)

 भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद
लखीमपुर खीरी घटना महिला सुरक्षा मामले में सरकार के दावों की जबर्दस्त पोल खोलती है: मायावती

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in