MLC चुनाव: कौन हैं अन्नपूर्णा सिंह, जिन्होंने PM मोदी के 'गढ़' में BJP को दी करारी मात?

MLC चुनाव: कौन हैं अन्नपूर्णा सिंह, जिन्होंने PM मोदी के 'गढ़' में BJP को दी करारी मात?
फोटो: उदय गुप्ता

उत्तर प्रदेश में हुए एमएलसी के चुनाव के नतीजे मंगलवार को घोषित कर दिए गए. यूं तो उत्तर प्रदेश में कई दिग्गज इस चुनाव मैदान में थे, उनकी प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई थी. मगर राजनीतिक गलियारे से लेकर आम लोगों की अगर निगाहें जिस सीट पर टिकी हुई थीं, तो वह वाराणसी-चंदौली-भदोही सीट थी. यहां से निर्दलीय प्रत्याशी अन्नपूर्णा सिंह ने जबरदस्त जीत हासिल की है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'गढ़' में निर्दलीय प्रत्याशी अन्नपूर्णा सिंह ने बीजेपी के प्रत्याशी डॉ. सुदामा पटेल को करारी शिकस्त दी है. आइए जानते हैं कि कौन हैं अन्नपूर्णा सिंह, जिन्होंने वाराणसी-चंदौली-भदोही सीट पर भारी मतों से जीत हासिल की है.

कौन हैं अन्नपूर्णा सिंह?

अहम बिंदु

बता दें कि अन्नपूर्णा सिंह जेल में बंद बाहुबली नेता बृजेश सिंह की पत्नी हैं, जिन्होंने निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में वाराणसी-भदोही-चंदौली सीट पर एमएलसी का चुनाव लड़ा था. इस सीट से एक तरफ जहां भारतीय जनता पार्टी ने डॉक्टर सुदामा पटेल को अपना प्रत्याशी बनाया था. वहीं दूसरी तरफ समाजवादी पार्टी से उमेश यादव चुनाव मैदान में थे.

अन्नपूर्णा सिंह को इस चुनाव में कुल 4234 वोट मिले, जबकि समाजवादी पार्टी के उमेश यादव को 345 मत मिले. वहीं भारतीय जनता पार्टी यहां पर तीसरे स्थान पर रही है और पार्टी के प्रत्याशी डॉक्टर सुदामा पटेल महज 170 वोट ही हासिल कर सके.

अन्नपूर्णा सिंह का जन्म गाजीपुर स्थित जमानिया कोतवाली क्षेत्र के बरूईन गांव में हुआ था. इनकी शिक्षा जमानिया के हिंदू इंटर कॉलेज से हुई थी. दो भाई और तीन बहनों में अन्नपूर्णा सिंह सबसे छोटी हैं. इनकी शादी 90 के दशक में बृजेश सिंह से हुई थी. अन्नपूर्णा सिंह ने 2010 में भी बहुजन समाज पार्टी के टिकट से एमएलसी का चुनाव लड़ा था और जीत हासिल की थी. इसके बाद 2016 में इनके पति बृजेश सिंह ने चुनाव लड़ा था और उन्होंने भी इस सीट पर जीत हासिल की थी. एक बार फिर अन्नपूर्णा सिंह ने चुनाव लड़ा और भारी मतों से जीत हासिल की.

दरअसल, वाराणसी-चंदौली-भदोही सीट पर बृजेश सिंह के परिवार का ही दबदबा रहा है. इससे पहले बृजेश सिंह के बड़े भाई उदय नाथ सिंह भी एमएलसी रह चुके हैं. वर्तमान समय में अन्नपूर्णा सिंह के भतीजे सुशील सिंह चंदौली की सैयदराजा विधानसभा सीट से बीजेपी के विधायक हैं.

सुशील सिंह की पहचान बीजेपी के एक कद्दावर नेता के रूप में होती है. शायद यही वजह है कि वाराणसी-चंदौली-भदोही सीट से बीजेपी के प्रत्याशी सुदामा पटेल लगातार इस बात का आरोप लगा रहे थे कि बीजेपी के ही कुछ लोग उनको सपोर्ट नहीं कर रहे हैं.

MLC चुनाव: कौन हैं अन्नपूर्णा सिंह, जिन्होंने PM मोदी के 'गढ़' में BJP को दी करारी मात?
यूपी MLC चुनाव: SP से जीत गई पर बाहुबलियों से हार गई BJP, इन दो सीटों पर हुआ बुरा हाल

संबंधित खबरें

No stories found.